रानी दुर्गावाती विश्वविद्यालाय में सन्नाटा, एससी-एसटी एक्ट के विरोध में लगे नारे

Spread the love

जबलपुर।केंद्र की मोदी सरकार द्वारा SC/ST एक्ट में संशोधन कर उसे मूल स्वरूप में बहाल करने के विरोध में रानी दुर्गावती विश्वविद्यालाय में सफल बंद के चलते सन्नाटा पसरा रहा। यहां उपकुलसचिव दीपेश मिश्रा, अतिथि विद्वान अजय मिश्रा, शोध छात्र अनुज प्रताप के साथ प्रदर्शन और नारेबाजी के बाद 30 छात्रों ने रानीताल में गिरफ्तारी दी। रानी दुर्गावती यूनिवर्सिटी में एससी-एससी एक्ट के विरोध में किए गए भारत बंद में उपकुलसचिव दीपेश मिश्रा के नेतृत्व में जहां एक ओर 375 कर्मचारी-अधिकारी, प्राध्यापक आवेदन देकर सामुहिक अवकाश पर रहे और सभी विभागों में सन्नाटा पसरा रहा।वहीं दूसरी ओर बंद के समर्थन में दोपहर मुख्य प्रशासनिक भवन के सामने अधिकारियों, छात्रों और कर्मचारियों द्वारा नारेबाजी भी की गई।

यूनिवर्सिटी बंद को लेकर छात्रसंघ समिति संयोजक डॉ. अजय मिश्रा ने बताया कि भारत बंद के समर्थन में शहर के विविध क्षेत्रों में छात्रसंघर्ष समिति द्वारा नारेबाजी कर बंद की अपील की गई। इस अवसर पर रानी दुर्गावाती विश्वविद्यालाय के उप कुलसचिव दीपेश मिश्रा, छात्र नेता अनुज प्रताप सिंह, अनितेश चनपुरिया,अमन शुक्ला सहित कर्मचारी नेता वीरेंद्र तिवारी, संजय तिवारी, मनोज सिंह, विद्या शंकर तिवारी, विनय तिवारी, राघवेंद्र श्रीवास्तव, मनीष पाण्डेय सहित सैकड़ों कर्मचारी रानीताल तक रैली के रूप में नारे बाज़ी करते हुए पहुँचे।

डिप्टी रजिस्ट्रार दीपेश मिश्रा परीक्षाओं में करते हैं धांधली: ईसी मेंबर का आरोप

यह भी पढ़े: पैसे ले लिए और पास भी नहीं कराया, रादुविवि के रजिस्ट्रार पर महिला ने लगाये गंभीर आरोप

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *