पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज हरदोई एवं कानपुर में चुनावी जनसभाओं को किया सम्बोधित

Spread the love
समाजवादी पार्टी, उत्तर प्रदेश
19, विक्रमादित्य मार्ग, लखनऊ
                  प्रकाशन/प्रसारण हेतु-         दिनांकः-24.04.2019
     समाजवादी पार्टी के राष्ट्रीय अध्यक्ष एवं पूर्व मुख्यमंत्री श्री अखिलेश यादव ने आज हरदोई एवं कानपुर में चुनावी जनसभाओं को सम्बोधित करते हुए क्रमशः लोकसभा प्रत्याशी श्रीमती ऊषा वर्मा तथा श्री रामकुमार को विजयी बनाने की अपील की।
     श्री अखिलेश यादव ने कहा भाजपा ने लोगों के बीच भरोसा खो दिया है। जाति-धर्म के नाम पर उसने बांटने का काम किया है। जो अंग्रेजों ने किया वही भाजपा कर रही हैं लेकिन हम उसे कामयाब नहीं होने देंगे। हमारा जो गठबंधन बना है वह बहुत मजबूत है। उसके पीछे किसानों, नौजवानों, गरीबों, अल्पसंख्यकों का समर्थन है। उन्होंने कहा कि नौजवानों को अब नौकरी मिलने की उम्मीद नहीं है। संविधान से जो अधिकार मिले हैं, उनको भी छीना जा रहा है।
     श्री यादव ने कहा कि हमने कन्नौज से हरदोई को जोड़ने के लिए पुल बनाया जो तेजी से बनकर तैयार है। समाजवादी सरकार बनेगी तो एक्सप्रेस-वे से हरदोई को जोड़ने वाली सड़क बनाएंगे और मण्डी भी देंगे। हम माताओं-बहनों को 3 हजार रूपये पेंशन देने का काम करेंगे। भाजपा ने तो लोगों की नौकरी छीन ली। नोटबंदी-जीएसटी ने व्यापार को गर्दिश में डाल दिया है। एक हजार शिक्षामित्रों ने आत्महत्या कर ली।
      श्री अखिलेश यादव ने कहा कि राजनीति में फायदा लेने के लिए सेना का इस्तेमाल हो रहा है। स्वच्छ भारत के नाम पर सबको झाडू पकड़ा दिया। देश में सफाई नहीं हुई, कूड़ा भाजपा वालों के दिमाग में हैं। शौचालय बने जिसमें पानी नहीं आता है। अच्छे दिनों का प्रधानमंत्री जी सपना दिखा रहे थे, जिनके अच्छे दिन आए वे जहाज में बैठकर उड़ गये। इन्हीं एक प्रतिशत कारपोरेट समाज के हित रक्षक हैं प्रधानमंत्री जी।
      श्री यादव ने कहा कि भाजपा ने एक किलो आलू नहीं खरीदा, आलू किसान बर्बाद हो गया। आज भी किसान परेशान है। उसकी खाद की बोरी से 5 किलों खाद चुरा ली। समाजवादियों ने 100 नं0 की व्यवस्था की थी ताकि गरीब किसान को कहीं जाना न पड़े। फिर से पुलिस अपने पुराने ढंग पर आ गयी है। गंगा की झूठी कसम खा ली, गंगा साफ नहीं हुई। समाजवादी सरकार ने लोहिया आवास दिए। इनकी आवास योजना आप तक नहीं पहुंच सकी। हमने पुलिस भर्ती आसान की। भाजपाई नौकरी के नाम पर पकौड़े बेचने को कहते हैं। भाजपा ने समाजवादियों के कामों को रोकने का ही काम किया है।
       श्री अखिलेश यादव ने कहा कि समाजवादी पार्टी, बहुजन समाज पार्टी और राष्ट्रीय लोकदल के गठबंधन को भाजपाई महामिलावट कहते हैं जबकि भाजपा के साथ 38 दलों का गठबंधन है, इसे क्या कहेंगे? अब इनकी चैकी छीनने का वक्त आ गया है। चुनावी सभाओं में होनेवाली भारी भीड़ से एहसास हो गया है कि हमारे गठबंधन के ज्यादा से ज्यादा सांसद जीतकर आएंगे।
                                                                   (राजेंद्र चौधरी)
                                                                    मुख्य प्रवक्ता

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *