कोई 12वीं पास तो कोई सिविल इंजीनियर, जानिए कितने पढ़े-लिखे हैं हमारे नेता

Spread the love

लखनऊ, (मनीष गुप्ता/दीपक प्रजापति)।  चुनाव में नामांकन दाखिल करते वक्त सभ उम्मीदवारों को अपनी संपत्ति और शिक्षा का ब्यौरा देना पड़ा है. यूपी में भी लोकसभा के लिए राहुल गांधी, सोनिया गांधी, स्मृति ईरानी समेत कई बड़े नेताओं ने अपने डिटेल दिए हैं. तो आइये जानते है कि पीएम मोदी, हेमामालिनी से लेकर सीएम योगी तक कितने पढ़े लिखे हैं हमारे नेता.

पीएम मोदी ने राजनीति शास्त्र में एमए प्रथम श्रेणी में पास किया है. उन्होंने गुजरात यूनिवर्सिटी से साल 1983 में राजनीति शास्त्र में एमए किया था. गुजरात विश्वविद्यालय में उपलब्ध जानकारी के मुताबिक प्रधानमंत्री मोदी ने 1983 में राजनीति विज्ञान में पोस्ट ग्रेजुएशन किया और 62.3 फीसदी नंबर हासिल किए थे. दो साल के इस कोर्स में मोदी के पास यूरोपियन पॉलिटिक्स, इंडियन पॉलिटिकल अनैलेसिस और साइकॉलजी ऑफ पॉलिटिक्स जैसे विषय थे. गुजरात विश्वविद्यालय के अनुसार, मोदी को एमए के पहले साल में 400 में से 237 अंक मिले थे जबकि दूसरे साल 400 में से 262 अंक मिले थे और एमए में कुल 800 में से 499 अंक मिले थे. चुनाव में दाखिल हलफनामे के अनुसार पीएम मोदी ने दिल्ली यूनिवर्सिटी से बीए किया है, उन्होंने 1978 में बीए किया था.

राहुल गांधी की स्कूली शिक्षा दिल्ली के मॉडर्न स्कूल में हुई थी, इसके बाद वो दून स्कूल में पढ़ने चले गए जहां उनके पिता राजीव ने भी पढ़ाई की थी.1981-83 तक सुरक्षा कारणों के कारण राहुल को अपनी पढ़ाई घर से ही करनी पड़ी. राहुल ने हार्वर्ड विश्वविद्यालय के रोलिंस कॉलेज फ्लोरिडा से सन 1994 में अपनी कला स्नातक की उपाधि प्राप्त की.1995 में कैम्ब्रिज विश्वविद्यालय के ट्रिनिटी कॉलेज से एमफिल की डिग्री हासिल की. स्नातक की पढ़ाई के बाद राहुल ने प्रबंधन गुरु माइकल पोर्टर की प्रबंधन परामर्श कंपनी मॉनीटर ग्रुप के साथ 3 साल तक काम किया.

सोनिया गांधी अंग्रेज़ी व फ्रेंच ज़बान में ग्रेजुएट हैं. सोनिया ने 2004, 2009 और 2014 में चुनाव आयोग को दिए अपने हलफनामें में अपनी डिग्री का पूरा ब्यौरा दिया है. वो अपने हलफनामें में लिखती हैं कि उन्होंने 1964 में सांता टेरेसा के माध्यम से इस्टिटूटो सांता टेरेसा से तीन साल का फॉरेन लग्वेज कोर्स कम्पलीट किया है. साथ ही 1965 में लेनोक्स कुक स्कूल, कैम्ब्रिज से अंग्रेज़ी भाषा में सर्टिफिकेट कोर्स की डिग्री भी हासिल की है.

हेना मालिनी को 9 साल की उम्र में ही पढ़ाई छोड़नी पड़ी थी हालांकि बाद में उन्होंने हायर एजुकेशन में डिग्र ली.

केंद्रीय मंत्री स्मृति ईरानी ने गुरुवार को अमेठी लोकसभा सीट से नामांकन किया. नामांकन के दौरान दिए गए हलफनामे में स्मृति ईरानी ने कहा है कि वे ग्रेजुएट नहीं हैं. 2004 में दिल्ली के चांदनी चौक से लोकसभा चुनाव लड़ने के दौरान स्मृति ईरानी ने शपथ पत्र में कहा था कि उन्होंने बीए पास किया है. लेकिन 2014 में उन्होंने जब अमेठी से नामांकन भरा तो शपथ पत्र में अपनी शैक्षिक योग्यता बी.कॉम बताई थी. इन दोनों शपथ पत्रों में बताई गई अलग-अलग शैक्षिक योग्यता के कारण काफी विवाद उठा था.

कन्नौज से सांसद डिंपल यादव लखनऊ विश्वविद्यालय से बीकॉम हैं.

अखिलेश यादव की स्कूली पढ़ाई राजस्थान के धौलपुर आर्मी स्कूल से हुई. इसके बाद उन्होंने मैसूर यूनिवर्सिटी से सिविल इन्वायरमेंटल इंजीनियरिंग में बैचलर और मास्टर्स की डिग्री ली. हॉयर एजुकेशन के लिए वे ऑस्ट्रेलिया गए और सिडनी यूनिवर्सिटी से पर्यावरण में मास्टर्स डिग्री पूरी की. स्कूली पढ़ाई के बाद अखिलेश मैसूर यूनिवर्सिटी से इन्वायरमेंटल इंजीनियरिंग में बैचलर और मास्टर्स की डिग्री लेने के बाद भी संतुष्ट नहीं हुए इसलिए वो पर्यावरण में अपनी पढ़ाई को विस्तृत रूप देने के लिए ऑस्ट्रेलिया की सिडनी यूनिवर्सिटी पहुंच गए, यहां से उन्होंने अपनी पढ़ाई पूरी की.

जयाप्रदा ने चुनाव आयोग में दायर अपने हलफनामे में कहा था कि उन्होंने बीकॉम प्रथम वर्ष तक ही पढ़ाई की है.

आजम खान ने प्रारंभिक शिक्षा रामपुर के बक़र स्‍कूल में हुई. इसके बाद उन्होंने रामपुर के सुंदरलाल इंटर कॉलेज से स्‍नातक और फिर 1974 में अलीगढ़ मुस्लिम यूनिवर्सिटी से एलएलबी (ऑनर्स) की पढ़ाई पूरी की.

सीएम योगी ने टिहरी के गजा के स्थानीय स्कूल में पढ़ाई शुरू की. टिहरी के गजा स्कूल से दसवीं की परीक्षा पास की. ऋषिकेश के भरत मंदिर इंटर कॉलेज से इंटरमीडिएट की परीक्षा पास की. ग्रेजुएशन की पढ़ाई करते हुए एबीवीपी से जुड़े.कोटद्वार के गढ़वाल यूनिवर्सिटी से गणित में बीएससी की परीक्षा पास की.1993 में गणित में एमएससी की पढ़ाई के दौरान गुरु गोरखनाथ पर रिसर्च करने गोरखपुर आए.

कभी IAS बनने का सपना देखने वाली मायावती ने काफी पढ़ाई की है. उन्होंने दिल्ली विश्वविद्यालय के कालिंदी कॉलेज से कला विषयों में स्नातक किया. गाजियाबाद के लॉ कॉलेज से कानून की परीक्षा पास की और मेरठ यूनिवर्सिटी के वीएमएलजी कॉलेज से शिक्षा स्नातक (बी.एड.) की डिग्री ली. शिक्षा स्नातक की डिग्री हासिल करने के बाद उन्होंने दिल्ली के ही एक स्कूल में बतौर शिक्षिका के रूप में अपने करियर की शुरुआत की.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *