धर्म नहीं, दो विचारधाराओं का युद्ध है भोपाल चुनाव : ज्योतिरादित्य सिंधिया

Spread the love

मध्य प्रदेश के गुना से सांसद और कांग्रेस महासचिव ज्योतिरादित्य सिंधिया ने साध्वी प्रज्ञा के उस बयान पर जवाब दिया है, जिसमें उन्होंने भोपाल सीट पर चुनाव को धर्म युद्ध बताया था. सिंधिया ने कहा कि भोपाल में चुनाव धर्म युद्ध नहीं, बल्कि दो विचारधाराओं के बीच युद्ध है. जिसमें एक तरफ मुट्ठी भर लोग हैं, तो वहीं दूसरी तरफ सूट-बूट वाले लोग हैं. लेकिन इस युद्ध में जीत प्रजातंत्र के सत्य की होगी और भोपाल से दिग्विजय सिंह ही जीतेंगे.

वहीं केंद्रीय मंत्री नरेंद्र सिंह तोमर ने कहा है कि धर्म और अधर्म हर जगह होता है. इस चुनाव में भी धर्म-अधर्म है. कांग्रेस अधर्म के रास्ते चल रही है. तभी शायद राहुल गांधी को अपना जनेऊ दिखाना पड़ता है. लेकिन बीजेपी राष्ट्रवाद में आस्था रखती है, साथ ही हमारा धर्म राष्ट्रधर्म है, उसके लिए हम जीते और मरते हैं. इसके साथ ही नरेंद्र सिंह तोमर ने अपनी मुरैना लोकसभा सीट को लेकर कहा है कि ‘मैं नैतिक मूल्यों की राजनीति करता हूं.  किसी प्रत्याशी को अपने फायदें के लिए चुनाव लड़ने से नहीं रोकता.

दरअसल, मुरैना लोकसभा सीट से पहले बीएसपी ने रामलखन सिंह कुशवाह को अपना उम्मीदवार बनाया था. लेकिन बाद में बीएसपी ने भड़ाना को अपना उम्मीदवार बना दिया है. ऐसे कांग्रेस नरेंद्र सिंह पर आरोप लगा रही है कि उन्होंने अपने फायदें के लिए बीएसपी के पहले प्रत्याशी रामलखन सिंह का कटवाने का काम किया है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *