संविधान की मूल भावना है सभी वर्गों को न्याय मिले : कमलनाथ

Spread the love

भोपाल। मध्यप्रदेश के  मुुख्यमंत्री कमलनाथ ने कहा है कि संविधान की मूल अवधारणा है कि सभी वर्गों के साथ न्याय हो। संविधान की इसी सोच के साथ मध्यप्रदेश सरकार काम कर रही है कि प्रदेश में हर वर्ग को न्याय मिले और नौजवानों को रोजगार मिले।
आधिकारिक जानकारी के अनुसार श्री कमलनाथ आज समन्वय भवन में दलित पिछड़ा अधिकार मोर्चा द्वारा पिछड़े वर्ग को 27 प्रतिशत आरक्षण देने के निर्णय पर आयोजित सम्मान एवं आभार समारोह को संबोधित कर रहे थे।
मुख्यमंत्री ने कहा कि हम किसी वर्ग को आरक्षण नहीं दे रहे हैं बल्कि संविधान की भावना के अनुसार उन्हें न्याय दे रहे हैं। उन्होंने कहा कि न्याय का यही सिद्धांत आज हमें सभी प्रकार की अनेकता के बाद भी एकता के सूत्र में पिरोए हुए हैं। आज कोई वर्ग न्याय से वंचित होगा, तो हम संविधान की मूल भावना को आघात पहुंचायेंगे। न्याय से जुड़े रहेंगे, तो देश निरंतर प्रगति करता जाएगा।
उन्होंने कहा कि संविधान को न्याय से जोड़ने का काम इसके निर्माता बाबा साहेब अंबेडकर ने किया। उन्होंने कहा कि हमारे विशाल देश को दो शक्तियों ने एकजुट कर रखा है। एक हमारी अनेकता में एकता और दूसरी आध्यात्मिक शक्ति है। मुख्यमंत्री ने कहा कि हमारा संविधान इतना महान है कि इसे कई देशों ने अपनाया है। हमें संविधान की रक्षा करना है, इसे अक्षुण्ण बनाए रखना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *