अमेरिका, रूस और चीन के बाद चौथी अंतरिक्ष महाशक्ति बना भारत, ‘मिशन शक्ति’ सफल: पीएम मोदी

Spread the love

नई दिल्ली: भारत ने अंतरिक्ष में एक और कामयाबी का परचम लहराया है और मिशन शक्ति (Mission Shakti) की सफलता के साथ अमेरिका, चीन, रूस के बाद भारत दुनिया का चौथा सबसे शक्तिशाली देश बन गया है. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Modi) ने देश के नाम संबोधन में इस बात की जानकारी दी. पीएम मोदी ने राष्ट्र के नाम संबोधन के दौरान कहा कि भारत अंतरिक्ष पावर के रूप में दुनिया का चौथा सबसे शक्तिशाली देश बन गया है. भारत ने आज अपना नाम अंतरिक्ष महाशक्ति के रूप में दर्ज करा दिया है और खास बात यह रही कि भारत ने किसी अंतर्राष्ट्रीय कानूनों का उल्लंघन भी नहीं किया है.

पीएम मोदी ने कहा कि भारत ने आज एक अभूतपूर्व सिद्धि हासिल की है. भारत में आज अपना नाम ‘स्पेस पावर’ के रूप में दर्ज करा दिया है. अब तक रूस, अमेरिका और चीन को ये दर्जा प्राप्त था, अब भारत को भी यह उपलब्धि हासिल की है. उन्होंने कहा कि यह देश के लिए गर्व की बात है.

पीएम मोदी ने कहा कि आज 27 मार्च को भारत ने एक बड़ी उपलब्धि हासिल किया है. भारत ने अपना नाम अंतरिक्ष पावर के रूप में दर्ज करा लिया है. दुनिया के तीन देश अमेरिका, चीन रूस को पहले से यह उपलब्धि हासिल थी, मगर आज भारत आज चौथा देश बन गया. हर हिंदुस्तानी के लिए इससे बड़ा गर्व का पल नहीं हो सकता. कुछ समय पहले हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर एलओ सैटेलाइट को मार गिराया. हालांकि, पीएम मोदी ने कहा कि हम विश्व शांति के प्रयास में हैं.

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि हर भारतीय के लिए इससे बड़े गर्व का पल नहीं हो सकता. कुछ ही समय पहले हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किलोमीटर दूर Low Earth Orbit (LEO) में एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया है. यह सैटेलाइट जो कि एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था, एसेट मिसाइल द्वारा मार गिराया गया. ‘मिशन शक्ति’ को तीन मिनट में सफलतापूर्वक पूरा कर लिया गया. यह अत्यंत कठिन ऑपरेशन था. इसमें उच्च गुणवत्ता वाली तकनीक की जरूरत थी. सभी निर्धारित उद्देश्य प्राप्त कर लिए गए. यह भारत में एंटी सैटेलाइट (ए-सेट) मिसाइल द्वारा सिद्ध किया गया.

पीएम मोदी के संबोधन की अहम बातें:

– भारत ने आज एक अभूतपूर्व सिद्धि हासिल की है. भारत में आज अपना नाम ‘स्पेस पावर’ के रूप में दर्ज करा दिया है. अब तक रूस, अमेरिका और चीन को ये दर्जा प्राप्त था, अब भारत को भी यह उपलब्धि हासिल की है.

-मिशन शक्ति ऑपरेशन सफल. इसके तहत एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया गया.

– पीएम मोदी ने सबसे पहले में डीआरडीओ और इसके वैज्ञानिकों को बधाई दी. जिन्होंने इस सफलता को पाने में योगदान दिया.

-हमारे वैज्ञानिकों ने अंतरिक्ष में 300 किमी दूर LEO (Low Earth Orbit) में एक लाइव सैटेलाइट को मार गिराया है. ये लाइव सैटेसाइट जो कि एक पूर्व निर्धारित लक्ष्य था, उसे एंटी सैटेलाइट मिसाइल (A-SAT) द्वारा मार गिराया गया है.

-हमें भविष्य की चुनौतियों का सामना करने और अपने नागरिकों के जीवन स्तर में सकारात्मक बदलाव लाने के लिए आधुनिक तकनीकों को अपनाना ही होगा.

-भारत ने अंतरिक्ष क्षेत्र में जो काम किया है, उसका मूल उद्देश्य भारत की सुरक्षा, भारत का आर्थिक विकास और भारत की तकनीकी प्रगति है. आज का यह ‘मिशन शक्ति’ इन सपनों को सुरक्षित करने की ओर एक अहम कदम है.

-मैं मिशन शक्ति से जुड़े सभी अनुसंधानकर्ताओं और अन्य सहयोगियों को बहुत-बहुत बधाई देता हूं. जिन्होंने इस असाधारण सफलता को प्राप्त करने में योगदान दिया है. हमें हमारे वैज्ञानिकों पर गर्व है.

-भारत ने ‘ऑपरेशन शक्ति’ के माध्यम से अंतरिक्ष शक्ति के रूप में खुद को स्थापित कर लिया है.

गौरतलब है कि पीएम मोदी देश को संबोधित करेंगे इसकी सूचना पीएम मोदी ने खुद पहले आधिकारिक ट्विटर हैंडल से दी थी. पीएम मोदी ने अपने ट्वीट में लिखा था कि आज सवेरे लगभग 11.45- 12.00 बजे मैं एक महत्वपूर्ण संदेश लेकर आप के बीच आऊंगा.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *