आध्यात्मिक शक्ति ही विश्व में भारत की पहचान : कमल नाथ

Spread the love

भोपाल। मुख्यमंत्री कमल नाथ आज यहाँ श्री शारदा देवी नवीन मंदिर की पुन:प्राण प्रतिष्ठा महोत्सव में शामिल हुए। महोत्सव का आयोजन तेलुगु सांस्कृतिक परिषद, मध्यप्रदेश द्वारा किया गया। महोत्सव 16 जून तक चलेगा।

मुख्यमंत्री आज पूर्वान्ह शिवाजी नगर स्थित सांस्कृतिक परिषद प्रांगण में स्थापित मंदिर पहुँचे, तो पारंपरिक रूप से मंगल-वादन से स्वागत हुआ। कमल नाथ ने अखण्ड दीप स्थापना की और प्रसाद ग्रहण किया। उन्होंने माँ शारदा देवी के श्रीचरणों में प्रणाम किया और आशीर्वाद लिया। मुख्यमंत्री ने कहा कि भारत की सांस्कृतिक और धार्मिक परम्पराओं से मिलकर आध्यात्मिक शक्ति निर्मित होती है और यही विश्व में भारत की पहचान है।

इस अवसर पर सांस्कृतिक परिषद के पदाधिकारी बड़ी, संख्या में तेलुगु समाज के भक्तजन, अपर मुख्य सचिव एम. गोपाल रेड्डी और तेलुगु समाज के वरिष्ठ प्रशासनिक अधिकारी उपस्थित थे। जनसम्‍पर्क आयुक्त पी. नरहरि ने मुख्यमंत्री की अगवानी की।

तीन दिवसीय आध्यात्मिक महोत्सव में 14 जून को वास्तु-पूजा, वास्तु होम पूर्णाहुति और भव्य शोभा यात्रा निकाली जायेगी। शाम को सांस्कृतिक कार्यक्रमों का आयोजन होगा। इसमें प्रतिभालय आर्ट्स अकादमी भोपाल के विद्यार्थी भरतनाट्यम प्रस्तुत करेंगे। सुश्री भक्ति विभावरी गजल के गायन और प्रमोद रेड्डी तथा समूह हैदराबाद द्वारा भरतनाट्यम नृत्य रूपक की प्रस्तुति होगी। हैदराबाद के डी. प्रकाश तथा समूह द्वारा शिव तांडव की प्रस्तुति मुख्य आकर्षण होगी। पन्द्रह जून को आध्यात्मिक और धार्मिक महत्व के सांस्कृतिक और मनोरंजन कार्यक्रम होंगे । सोलह जून को महापूर्णाहुति के साथ तीन दिवसीय आध्यात्मिक महोत्सव का समापन होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *