अब सऊदी ने भी चीनी वैक्सीन लगवाने वालों की एंट्री पर लगाया बैन, पाकिस्तान की बढ़ी टेंशन

अब सऊदी ने भी चीनी वैक्सीन लगवाने वालों की एंट्री पर लगाया बैन, पाकिस्तान की बढ़ी टेंशन

चीनी वैक्सीन को लेकर पाकिस्तान की मुश्किलें कम नहीं हो रही हैं. अब सऊदी अरब भी उन देशों में शुमार हो गया है, जहां चीन की कोरोना वैक्सीन लगवाने वालों की एंट्री बैन है. भले ही चीनी वैक्सीन सिनोफार्म और सिनोवैक को विश्व स्वास्थ्य संगठन ने मान्यता दे दी हो, लेकिन सऊदी सहित कई देशों को इन पर विश्वास नहीं है. इसलिए उन्होंने ऐसे लोगों की एंट्री बैन कर रखी है, जिन्होंने चीन की वैक्सीन लगवाई है.

पाकिस्तान से बड़े पैमाने पर लोग सऊदी अरब में काम करते हैं, ऐसे में सऊदी सरकार का यह फैसला उसके लिए बड़ी मुश्किल बन गया है. पाकिस्तान के आंतरिक मंत्री शेख रशीद ने हाल ही में कहा था कि प्रधानमंत्री इमरान खान व्यक्तिगत तौर पर इस मामले को देख रहे हैं, क्योंकि सऊदी अरब के साथ कुछ और मध्य-पूर्व के देश चीन की वैक्सीन को मान्यता नहीं दे रहे हैं. वहीं, डॉन की रिपोर्ट के अनुसार, सऊद अरब में जिन वैक्सीन की सिफारिश की गई हैं, उसमें फाइजर, एस्ट्राजेनिका, मॉडर्ना और जॉनसन एंड जॉनसन शामिल हैं.