कमलनाथ ने कहा- पुलवामा हमले में शहीद अश्विनी कुमार काछी पर प्रदेश को गर्व, अंतिम विदाई देने जाएंगे गांव

भोपाल. मुख्यमंत्री कमलनाथ ने जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में जबलपुर जिले के अश्विनी कुमार काछी के शहीद होने पर कहा कि बहादुर नौजवान पर पूरे प्रदेश को गर्व है।

कमलनाथ ने कहा कि यह शहादत बताती है कि  हमारे प्रदेश के नौजवानों में देश की रक्षा के लिए अपने प्राण न्यौछावर करने का साहस है। उनकी वीरता का ही परिणाम है कि दुश्मन कायराना हमले पर उतर आया है।

मुख्यमंत्री ने कहा कि वे शहीद अश्विनी कुमार के परिवार को सलाम करते हैं, जिन्होंने अपने वीर सपूत को देश की रक्षा के लिए सीमा पर भेजा। आतंकवाद का कोई भी स्वरूप प्रदेश और देश में बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। कमलनाथ ने कहा कि आतंकवाद को बर्दाश्त नहीं किया जाना चाहिए और उसे समूल नष्ट करने के लिये कड़े कदम उठाने की आवश्यकता है।

श्रद्धाजंलि देने खुड़ावल जाएंगे 
मुख्यमंत्री कमलनाथ जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में शहीद हुए जबलपुर के जवान अश्विनी कुमार काछी के कल घर जाकर शहीद को श्रद्धांजलि अर्पित करेंगे। मुख्यमंत्री कमलनाथ कल 16 फरवरी को जबलपुर में शहीद जवान के गांव खुड़ावल जाकर शहीद अश्विनी कुमार काछी के परिजन को सांत्वना देंगे।

जबलपुर जिला मुख्यालय से करीब 60 किलोमीटर दूर खुड़ावल के जवान अश्विनी कुमार काछी कल के आतंकवादी हमले में शहीद हो गए। राज्य शासन ने शहीद के परिजन को एक करोड़ रुपए की राहत राशि, एक मकान और परिवार के एक व्यक्ति को शासकीय नौकरी देने की घोषणा की है। इधर, पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह भी शहीद के परिजनों से मिलने और उन्हें श्रद्धाजंलि देने जबलपुर के खुड़ावल जाएंगे।

कैबिनेट बैठक से पहले नहीं होगा स्वागत 
प्रदेश के वित्तमंत्री तरुण भनोट ने बताया कि पुलवामा आतंकी हमले में शहीद हुए जबलपुर के बेटे के मद्देनजर कैबिनेट बैठक से पहले किसी तरह का स्वागत-सत्कार नहीं किया जाएगा। बता दें कि शनिवार को पहली बार कांग्रेस सरकार भोपाल से बाहर संस्कारधानी जबलपुर में कैबिनेट की बैठक करने जा रही है।