कानपुर-अलीगढ़ राष्ट्रीय राजमार्ग 91 ने लोगों के लिए खड़ी कर दी है आफत!

ब्यूरो रिपोर्ट समाचार भारती-

उत्तर प्रदेश में योगी सरकार आने के बाद बड़े जोर शोर से गड्ढा मुक्ति अभियान को लेकर बातें की गई थी। उत्तर प्रदेश तो दूर की बात है अलीगढ़ से कानपुर तक राष्ट्रीय राजमार्ग 91 इन दिनों लोगों के लिए आफत खड़ी कर दी है। ज्यादातर सड़क के गड्ढों में तब्दील हो चुकी हैं हालत यह है, की एक एक फुट गहरे गड्ढे हो चुके हैं। आए दिन हादसे होते रहते हैं। 280 किलोमीटर का यह हाईवे चलने लायक नहीं रह गया है, 2 साल पहले ही इसे फोरलेन बनाने की स्वीकृति हो चुकी है।

जमीन का अधिग्रहण भी किया जा चुका है। इसमें सर्वाधिक जमीन एटा और फर्रुखाबाद जिले में ली जा रही है। अलीगढ़ के 15 गांव में 1400 किसानों से 31 हेक्टेयर भूमि का अधिग्रहण हुआ है। सरकार ने इस जमीन अधिग्रहण के लिए 94 करोड रुपए खर्च किए हैं। बावजूद इसके यह रोड पूरी तरह से बेकार हो चुकी है। अफसरों की लापरवाही के चलते टेंडर होने के 3 महीने के बाद भी अब तक निर्माण कार्य शुरू नहीं हो पाया है। इस दिन पर दिन बद से बदतर होती जा रही है। यहां आए दिन हादसे हो रहे हैं। वाहनों का नुकसान हो रहा है इसके साथ ही गाड़ियों का तेल भी ज्यादा खर्च होता है।