कानपुर के तेजतर्रार डीएम आलोक तिवारी ने संभाली कमान, की बैठक

तेज तर्रार नवनियुक्त जिलाधिकारी ने कमान सभाली

ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर नगर

नवनियुक्त जिलाधिकारी आलोक तिवारी ने जिले की कमान ले ली है। वह जिले की टेजरी में पहुँचे व अपने पदभार ले लिया है । आपको बता दे कल ही देर रात शासन ने डीएम डॉ ब्रम्हदेव राम तिवारी को जिलाधिकारी पद से हटा दिया था। उनको अचानक डीएम पद से हटाने का कारण यह माना जा रहा है कि कल जिले में एक ही दिन में 16 कोरोना मरीजों की मौत हो गई थी। वही कानपुर में कोरोना का संक्रमण बेकाबू हो गया है। पूरे प्रदेश में कोरोना से होने वाली मौतों में कानपुर टॉप पर बना हुआ है। प्रदेश की राजधानी में भले ही कोरोना के रोज 500 से ज्यादा मामले सामने आ रहे हो लेकिन वहाँ कोरोना से इतनी मौतें नहीं हो रही है जितनी कोरोना से कानपुर में मौतें हो रही है। कल देर तक शासन ने कानपुर के जिलाधिकारी को उनके पद से हटा दिया था। उनकी जगह दिल्ली की प्रतिनियुक्ति से वापस आए आलोक तिवारी को कानपुर की कमान सौंपी। कयास लगाए जा रहे थे कि आज ही नवनियुक्त जिलाधिकारी कानपुर की कमान संभाल लेगें। ऐसा ही हुआ नए जिलाधिकारी आलोक कुमार ने टेजरी पहुँच कर जिले की कमान संभाल ली है। किस किस पद पर रहे …
नवनियुक्त जिलाधिकारी आलोक तिवारी इलाहाबाद के रहने वाले है वह 2007 बैच के आईएएस है। उन्होंने अपनी सेवाएं कई जगह दी है वह बनारस में अस्सिटेंट मजिस्ट्रेट, मेरठ में जॉइंट मजिस्ट्रेट ,लखनऊ में सीडीओ, कन्नौज में जिलाधिकारी, विशेष सचिव राज्यपाल, मथुरा के डीएम,विशेष सचिव वित्त आदि प्रमुख विभागों में अपनी सेवाएं दे चुके है ।
अब देखना होगा कि वह कानपुर में हो रही कोरोना की मौतों से कैसे निपटेंगे व कानपुर को कैसे कोरोना से जिताएंगे।