कानपुर में पुलिस स्मृति दिवस पर बहादुर पुलिस कर्मियों को श्रद्धांजलि

ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर

पुलिस स्मृति दिवस के पुनीत अवसर पर समाज व राष्ट्र की रक्षा करते हुए अपना जीवन बलिदान करने वाले सभी शहीद पुलिस जन के प्रति श्रद्धा सुमन अर्पित करता हूं इन वीरों की यशोगाथा युगों युगों तक स्मरणीय रहेगी समाज की सुरक्षा का दायित्व पुलिस पर होता है जिसका निर्वाहन पुलिसजन विषम एवं कठिन परिस्थितियों में अपनी व अपने परिवार की सुख सुविधा को विस्मृत करते हैं। 1 सितंबर, 2019 से 31 अगस्त 2020 तक की अवधि में संपूर्ण भारतवर्ष में कर्तव्य की वेदी पर 264 पुलिस जवानों ने अपने प्राणों को न्यौछावर किया इनमें उत्तर प्रदेश के 09 पुलिसजन क्रमशः पुलिस उपाधीक्षक देवेंद्र मिश्र, उपनिरीक्षक अनूप कुमार सिंह, उपनिरीक्षक महेश कुमार यादव, उपनिरीक्षक नेबूलाल, मुख्य अधीक्षक जितेंद्र कुमार मौर्य, आरक्षी जितेंद्र पाल, आरक्षी सुल्तान सिंह, आरक्षी राहुल कुमार एवं आरक्षी बबलू कुमार सम्मिलित है कर्तव्य पालन के दौरान सर्वोच्च बलिदान करने वाले इन वीरों के पराक्रम से संपूर्ण उत्तर प्रदेश पुलिस बल गौरवान्वित है एवं इनके इस त्याग के लिए सदेव इनका ऋणी रहेगा।

महिलाओं एवं कमजोर वर्ग की सुरक्षा सामाजिक सौहार्द स्थापित करने अपराधों की रोकथाम एवं कानून व्यवस्था को और सुदृढ़ करते हुए माफियाओं पर कड़ी कार्रवाई करने में उत्तर प्रदेश पुलिस तत्पर एवं अग्रसर है वैश्विक महामारी कोविड-19 के दौरान अपराध नियंत्रण तथा कानून व्यवस्था बनाए रखने के साथ-साथ प्रदेश में आने वाले लोगों की सहायता तथा लॉकडाउन का पालन कराने में उत्तर प्रदेश पुलिस ने पूर्ण निष्ठा के साथ कर्तव्यों का निर्वहन किया है विगत वर्ष कर्तव्य पालन में प्रदेश पुलिस के 9 पुलिसकर्मियों ने अपने प्राणों की आहुति दी है इन वीर शहीदों के सर्वोच्च बलिदान से प्रदेश पुलिस का मान बढ़ा है समस्त वीर शहीदों के परिजनों को मैं आश्वस्त करता चाहता हूं कि उत्तर प्रदेश शासन सदैव उनके साथ है कर्तव्यपरायण वीर शहीद पुलिस जन को मैं कोटिशः पुनः नमन करते हुए अपनी एवं प्रदेश की जनता की ओर से भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित करता हूं।