किसानों की समस्याओं को लेकर भारतीय किसान यूनियन (भानु ) ने यूपी प्रेस क्लब में प्रेस वार्ता की ।

लखनऊ से वरिष्ठ संवाददाता अभिनव शर्मा की रिपोर्ट

लखनऊ के यू पी प्रेस क्लब में भारतीय किसान यूनियन (भानू) के प्रदेश प्रभारी आशु चौधरी ने योगी सरकार पर किसानों की अनदेखी अधिकारों का हनन किया जा रहा हैं। प्रदेश प्रभारी ने योगी सरकार पर आरोप लगाते हुए अपनी मांगों को रखा । केंद्र सरकार तीन स्तरीय कृषि अध्यादेश को तत्काल प्रभाव से वापस लिया जाए। सरकार किसानों के हित के लिए किसान आयोग का गठन करें । किसानों को खेती करने में डीजल का उपयोग करते हैं जिस पर भी सब्सिडी दी जाए । सुल्तानपुर से बनारस राष्ट्रीय राज मार्ग जा रहा है जिसमें बहुत किसानों की जमीन को अधिकृत करके मुआवजा भी नहीं मिल पा रहा है। अतःराष्ट्रीय राजमार्ग के निर्माण विकास व विकास प्राधिकरण द्वारा किसानों व ग्रामीण की अधिकृत भूमि का समय से मुआवजा सुनिश्चित करके समय से बैंक खातों में दे दिया जाए । भारत सरकार पर आरोप लगाते हुए कहा की सबसे पहले जो लोग विदेशों में देश का धन लेकर भाग गए हैं । उन को वापस लाने के बाद किसानों से बैंक ऋण को मांगा जाए। यदि सरकार इन मांगों को नहीं मानती है तो नवंबर माह में दिल्ली में राष्ट्रीय अध्यक्ष ठाकुर भानु प्रताप सिंह के नेतृत्व में किसानों की समस्या को लेकर एक बड़ा आंदोलन किया जाएगा । इस मौके पर लखनऊ मंडल वरिष्ठ उपाध्यक्ष प्रशांत मिश्रा, त्रिपुरारी शुक्ला जिला अध्यक्ष सुल्तानपुर ,रवि वर्मा प्रदेश प्रवक्ता अनूप श्रीवास्तव सहित कार्य कार्यकर्ता मौजूद रहे।