कोरोना के साथ डेंगू व मलेरिया से भी बचना जरूरी : मुख्य चिकित्सा अधिकारी

लखनऊ से वरिष्ठ संवाददाता इमरान सिद्दीकी की रिपोर्ट


कोविड महामारी के साथ ही हमें डेंगू, मलेरिया व अन्य संचारी रोगों से भी सावधान रहना जरूरी है क्योंकि यह भी जानलेवा साबित हो सकते हैं | इन बीमारियों के प्रति जागरूकता ही बचाव का एकमात्र उपाय है | यह बातें मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. संजय भटनागर ने संचारी रोगों से बचाव के लिए स्वयंसेवी संस्था ममता हेल्थ इंस्टीट्यूट फॉर मदर एंड चाइल्ड द्वारा एचसीएल फाउंडेशन के सहयोग से आयोजित उदय कार्यक्रम के दौरान कहीं | इस कार्यक्रम में गर्भवती व धात्री महिलाओं को मच्छरदानी का वितरण किया गया ताकि मच्छरजनित बीमारियों से उनका बचाव हो सके |
इस मौके पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने कहा- मुख्यमंत्री ने महिलाओं और बेटियों की सुरक्षा के लिए मिशन शक्ति अभियान शुरू किया है | मिशन शक्ति को सफल बनाने के लिए महिलाओं का स्वस्थ होना बहुत जरूरी है
सीएमओ ने कहा – ममता संस्था का प्रयास सराहनीय है , जिन्होंने गर्भवती की संचारी रोगों से सुरक्षित रहने में मदद की |
ममता हेल्थ इंस्टीट्यूट फॉर मदर एंड चाइल्ड की स्टेट लीड शुभ्रा त्रिवेदी ने बताया-शहरी प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र जुगौली, खरगापुर, खुर्रमनगर, रहीम नगर, त्रिवेणी नगर के अंतर्गत आने वाली मलिन बस्तियों की 170 निर्धन गर्भवती और धात्री महिलाओं को यह मच्छरदानी दी जाएँगी |
इस अवसर पर अपर मुख्य चिकित्सा अधिकारी डा. के.पी त्रिपाठी, डा. अनूप कुमार श्रीवास्तव ,योगेश रघुवंशी जिला स्वास्थ्य एवं सूचना अधिकारी,ममता संस्था के प्रोग्राम ऑफिसर विनीत कुमार, एचसीएल फाउन्डेशन के प्रोग्राम ऑफिसर विमलेश मिश्रा, क्षमाशील वर्मा, अनामिका सिंह, सुमन शुक्ला, निशा सिंह, नीलम श्रीवास्तव व गायत्री सोनकर उपस्थित थे |
कार्यक्रम के अंत में ममता संस्था की स्टेट लीड ने कार्यक्रम में आए सभी लोगों के प्रति धन्यवाद ज्ञापित किया