क्षय रोगियों की खोज के लिए दो नवंबर से चलेगा अभियान 73 टीमों को दिया गया प्रशिक्षण, 11 नवंबर तक चलेगा अभियान


जालौन सेेेे ब्यूरो चीफ राहुल दुबेे की रिपोर्ट
सक्रिय क्षय रोगी खोज अभियान दो नवंबर से 11 नवंबर तक चलेगा । इसके लिए 73 टीमों का गठन कर किया गया है। उनकी देखरेख के लिए 16 सुपरवाइजर भी लगाए गए हैं। शहरी क्षेत्रों के अलावा करीब 80 गांवों में अभियान चलेगा। इस बाबत मंगलवार को जिला क्षय रोग अस्पताल में टीमों में शामिल सदस्यों को प्रशिक्षण दिया गया है।
जिला क्षय रोग अधिकारी डा. सुग्रीव बाबू ने बताया कि अभियान के दौरान कुल 37478 घरों की स्क्रीनिंग की जानी है। इसके लिए 73 टीमें बनाई गई है। एक टीम में आशा, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता के साथ एक एनजीओ का कर्मचारी भी शामिल रहेगा। टीम को एक फारमेट दिया गया है, जिसमें रोजाना पचास घरों में जाकर फार्म में घर के मुखिया, घर के सदस्यों की संख्या और उनकी बीमारी के बारे में जानकारी भरेगी । दूसरे फार्म में किस तरह की बीमारी है, कब से है। टीबी के क्या लक्षण है आदि के बारे में भरेगी। प्रत्येक टीम को एक बैग दिया जाएगा। लक्षण वाले व्यक्ति की सैंपलिंग भी टीम करेगी। रोजाना शाम को चार बजे से पहले शासन को रिपोर्ट भेजी जाएगी। वरिष्ठ उपचार पर्यवेक्षक राजीव ने बताया कि निगेटिव और पाजिटिव मरीजों की संख्या अगले दिन अपडेट होगी और इसके अगले दिन जो क्षय रोग के पाजिटिव मरीज मिले है, उनका उपचार शुरु हो जाएगा। इसके बारे में जानकारी अपडेट की जाएगी। उपचार पर्यवेक्षक संजय अग्रवाल ने बताया कि टीम को मास्क, सैनिटाइजर, ग्लब्स दिए गए हैं और सोशल डिस्टेसिंग का पालन करने को कहा गया है। इस साल 1911 पंजीकृत मरीज हैं और 1116 मरीज इलाज ले रहे हैं। इस बार 181219 जनसंख्या की स्क्रीनिंग का लक्ष्य निर्धारित किया गया है।