लखनऊ से आरिफ मुकीम की रिपोर्ट

गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया को टॉप 30 बेस्‍ट कंपनीज टू वर्क फॉर – 2021 में
शामिल किया गया

लखनऊ, 25 जून 2021: गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया ने टॉप 30 बेस्‍ट कंपनीज टू वर्क फॉर 2021 का प्रतिष्ठित खिताब जीता है। तीसरे वर्ष के लिए इसमें भाग लेते हुए, गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया को इस साल 28वीं रैंकिंग मिली।
ग्रेट प्लेस टू वर्क (GPTW) द्वारा यह मान्यता, जो दुनिया भर में उत्कृष्ट मानव संसाधन पद्धतियों और कार्यस्थल संस्कृतियों के आधार पर कंपनियों को रैंक प्रदान करती है, गॉडफ्रे फिलिप्स की गतिशील संस्कृति का, जो सम्मान, पारदर्शिता, सहयोग, सशक्तिकरण और जीतने के जुनून के स्‍तंभों पर खड़ी है, प्रमाणीकरण है।
गॉडफ्रे फिलिप्स को अपनी ‘पीपल फर्स्ट’ फिलॉसफी पर गर्व है जो सभी व्यावसायिक निर्णयों के मर्म में निहित है। इस मौलिक आदर्श ने महामारी और लॉकडाउन की दो लहरों के बीच से कंपनी के प्रयोजन को अच्छी तरह से पूरा किया है, क्योंकि कंपनी न केवल अपने सभी कर्मचारियों के सुरक्षित रहने के साथ ऊपर उठी है बल्कि इसने शानदार व्यावसायिक परिणाम भी हासिल किए हैं। GPTW रैंकिंग उन प्रगतिशील चिंतन पद्धतियों का प्रमाणीकरण करती है जिनका कंपनी ने कई वर्षों से पक्षसमर्थन और स्थापित किया है; जिसमें बॉटम अप एप्रोच शामिल है जो सभी स्तरों पर सशक्तिकरण का पालन-पोषण करती है; जोखिम लेने और असफलताओं से सीखने की गुंजाइश देती है; प्रशिक्षण, अपस्किलिंग और विकास कार्यक्रमों को प्रोत्साहित करती है। कंपनी को कई सराहनीय लाभों के लिए भी सम्‍मानित किया गया है जिनमें कर्मचारियों और उनके परिवारों के लिए चिकित्सा सहायता शामिल है जिसकी अत्‍यधिक तारीफ की गई है। महामारी ने कंपनी को इसकी मेहनत के फल का आनंद लेने दिया क्योंकि कर्मचारियों ने उच्च प्रणबद्धता और अभिनव समाधान अभिमुखता का प्रदर्शन किया जो व्‍यावसयिक परिणामों में परिलक्षित होती हैं। गॉडफ्रे फिलिप्स कर्मचारियों के साथ भावनात्मक संबंध पर जोर देने के साथ निरंतर संवाद का भी प्रसार करती है।
गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया की प्रेजिडेंट और मैनेजिंग डायरेक्‍टर डॉ बीना मोदी ने इस खबर पर अपनी खुशी साझा की। “यह महामारी मानवता की सबसे बड़ी परीक्षा रही है। मेरा मानना है कि संकट के समय एक अंतर्भूत मानव शक्ति उभरती है जो लगभग अलौकिक है। हमने उस शक्ति, उस ताकत का दोहन करने का प्रयास किया। यही वह ताकत थी जिसने व्यावसायिक चुनौतियों को अधिभूत करने में हमारी मदद की थी। हमने अपने कर्मचारियों के लिए मानवता, समानुभूति, सुरक्षा और देखभाल सुनिश्चित करने के लिए कोई कसर बाकी नहीं छोड़ी और उन्‍होंने सकारात्मकता के साथ प्रतिफल चुकाते हैं। बेस्‍ट कंपनी टू वर्क फॉर का सम्‍मान हमारे आदर्शों का एक पारितोषिकमयी प्रमाणीकरण है – एक ऐसी कंपनी जिसके सभी व्यावसायिक निर्णयों के मर्म में उसके कर्मचारी हैं।”
भीष्‍म वडेरा, सीईओ, गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया लिमिटेड ने कहा, “मैंने हमेशा खुद को चीफ एम्‍पावरमेाट ऑफिसर कहा है। ‘पीपल फर्स्ट’ की हमारी फिलॉसफी एक ऐसा आदर्श है जो ठीक हमारे प्रमोटरों से लेकर लीडरशिप तक और फिर अंतिम मील तक प्रेरित करता है। हम सुनने, भरोसा करने, जुड़ने, स्वायत्तता प्रदान करने का लगातार प्रयास करते हैं और असफलताओं से सीखने को प्रोत्साहित करते हैं; मेरा मानना है कि इन पद्धतियों ने हमें इस सदी की सबसे बड़ी चुनौती पर काबू पाने में मदद की है। वर्ष-दर-वर्ष GPTW द्वारा सम्‍मानित किए जाने से हमें अपने मूल सिद्धांतों पर दृढ़ रहने के लिए प्रोत्साहन मिलता है।”
शरद अग्रवाल, सीओओ, गॉडफ्रे फिलिप्स का कहना था, “यह सम्‍मान एक संस्कृति पर हमारे पर्याप्त प्रयासों का प्रमाणीकरण है जो मददगार, समानुभूतिपूर्ण और सशक्तिकरण करने वाली है। हमें ‘OneGPI’ होने पर गर्व है – हमारे अपने कर्मचारियों द्वारा गढ़ा गया एक शब्द और जो वाकई परिलक्षित करता है कि हम कौन हैं; एक ताकतवर और एकजुट परिवार। इस महामारी ने सभी कंपनियों का इम्तिहान लिया है और मेरा मानना है कि हम विजयी हुए हैं क्योंकि सुरक्षा, समानुभूति और कर्मचारियों की सहायता पर हमारा फोकस हर व्यक्ति के साथ गुँजायमान हुआ है। हम साल दर साल अपने लिए उच्च बेन्‍चमार्क तय करते हैं और हम उन तक पहुंचने में गर्व करते हैं। ”
राजेश मेहरोत्रा, सीएचआरओ, गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया लिमिटेड का कहना था, “लगातार तीसरे साल बेस्‍ट कंपनीज टू वर्क फॉर सम्‍मान को प्राप्त करना वाकई में एक सच्‍चा सम्मान है। संकट के समय सुदृढ़ संस्कृतियों को सबसे अच्‍छे से परखा जाता है और हमें गर्व है कि हम न केवल अपेक्षाकृत अनछुए उभरे हैं, बल्कि यह भी साबित किया है कि हम अपने उद्देश्य में एकजुट हैं। हम इसका श्रेय भावनात्मक और शारीरिक सुरक्षा सुनिश्चित करने और सशक्तिकरण के द्वारा अपनत्‍व को प्रोत्साहित करने के हमारे निरंतर प्रयास को देते हैं। हमने देखा कि हमारे लोग सबसे खराब समय में एकाग्रचित्त, प्रणबद्ध और पर्याप्‍त ताकतवर थे क्योंकि उन्हें पता था कि उनके पीछे हम खड़े हैं। हमें इस तरह की कंपनी, एक परिवार होने पर गर्व है जिस पर आप निर्भर कर सकते हैं।”
ग्रेट प्लेस टू वर्क® दुनिया भर में सर्वश्रेष्ठ कार्यस्थलों का सृजन करने, आंकने और पहचान करने में ग्‍लोबल ऑथोरिटी है। हर साल, 60 से अधिक देशों के 10,000 से अधिक कंपनियां अपनी कार्यस्थल संस्कृति को सुदृढ़ बनाने के लिए एसेसमेंट, बेंचमार्किंग और प्लानिंग एक्शन के लिए ग्रेट प्लेस टू वर्क® इंस्टीट्यूट से साझेदारी करती हैं। इस साल असेसमेंट करवाने के लिए, भारत में 850 से अधिक संगठनों ने ग्रेट प्लेस टू वर्क® इंस्टीट्यूट में आवेदन किया था। हर साल, ग्रेट प्लेस टू वर्क® 100 सर्वश्रेष्ठ कंपनियों की मेहनत का मूल्‍यॉंकन करता है जिन्होंने एक महान कार्यस्थल संस्कृति का सृजन किया है और उसे कायम रखा है। इंडियाज बेस्‍ट कंपनीज टू वर्क फॉर देश में सबसे प्रतिष्ठित और सबसे विश्वसनीय एम्‍प्‍लॉयर ब्रांड मान्यता है।
गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया का संक्षिप्‍त परिचय
गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया, जो मोदी एंटरप्राइजेज की फ्लैगशिप कंपनी है, देश की सबसे बड़ी FMCG कंपनियों में से एक है, जिसके फोर स्क्वेयर, रेड एंड व्हाइट और कवेन्डर्स जैसे नामी-गिरामी ब्रांड हैं।  कंपनी के पास फिलिप मॉरिस इंटरनेशनल के साथ भारत में मार्लबोरो ब्रांड का निर्माण और वितरण करने के लिए एक एक्‍सक्‍लूसिव सोर्सिंग और सप्‍लाई एग्रीमेंट भी है।
2020-21 में लगभग रु. 6400 करोड़ की सकल बिक्री के साथ, गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया ने पैन विलास, ट्वन्टी फोर सेवन और फंडागोली जैसे मशहूर ब्रांड्स के साथ चबाने वाले उत्पादों, रिटेल, माउथ फ्रेशनर और कन्फेक्शनरी के लिए अपने प्रोडक्‍ट पोर्टफोलियो का विस्तार किया है।  इसकी इंटरनेशनल बिजनेस डिवीजन उत्पाद समर्थन, पेशेवर विशेषज्ञता और अनुकूलीकृत सेवाओं के साथ अपने स्वयं के ब्रांड्स और कटे हुए तंबाकू का इस उद्योग में अग्रणी वैश्विक कंपनियों को सफलतापूर्वक निर्यात और विपणन करती है।  कंपनी की ताकत इसकी अत्याधुनिक विनिर्माण सुविधाओं, प्रक्रिया प्रेरित मानसिकता और अखिल भारत वितरण नेटवर्क में निहित है जिसमें 800 से अधिक एक्‍सक्‍लूसिव डिस्‍ट्रीब्‍यूटर, 6000 से अधिक लोगों की दमदार सेकेंडरी सेल्‍स टीम और 800,000 रिटेल आउटलेट शामिल हैं।  गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया में, परस्पर लाभप्रद सह-अस्तित्व की संकल्पना सभी उन्नति गतिविधियों का एक अभिन्न अंग है। गॉडफ्रे फिलिप्स इंडिया के सीएसआर कार्यक्रम इस उद्योग से जुड़े समुदायों के लिए सतत-संपोषित विकास और आजीविका का सृजन करने पर फोकस करते हैं। सीमान्‍त मजदूरों और किसानों के लिए पुरस्कार विजेता कार्यक्रम का लक्ष्‍य कमाई क्षमता, काम करने और रहन-सहन की स्थिति में सुधार लाना है।
अधिक जानकारी के लिए, कृपया www.godfreyphillips.com पर लॉग ऑन करें।