गोल्डन कार्ड जारी करने में 36 लापरवाह बीएलई की आईडी बन्द कर कार्यवाही के दिये निर्देश-जिलाधिकारी

 

ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर

कानपुर देहात, आयुष्मान भारत योजना को एक अप्रैल 2018 को पूरे भारत में लागू किया गया, इस योजना का उद्देश्य आर्थिक रूप से कमजोर लोगों को स्वास्थ्य बीमा मुहैया कराना है, इसके अन्तर्गत आने वाले प्रत्येक परिवार को पांच लाख तक का कैश रहित स्वास्थ्य बीमा उपलब्ध कराया जायेगा, दस करोड़ बीपीएल धारक परिवार (लगभग 50 करोड़ लोग) इस योजना का प्रत्यक्ष लाभ उठा सकेंगे, आयुष्मान भारत राष्ट्रीय स्वास्थ्य सुरक्षा योजना के अन्तर्गत आने वाले लाभार्थी को देश भर के किसी भी सार्वजनिक या निजी अस्पताल से कैशलेस (बिना पैसे की) लाभ लेने की अनुमति होगी। गोल्डन कार्ड में लापरवाही के चलते जिलाधिकारी के निर्देशों के तहत 36 बीएलई के ऊपर कार्यवाही करते हुए उनकी आईडी बंद कर दी गयी। जिनका विवरण इस प्रकार है- तहसील सिकन्दरा में गोविन्द माधव, कृष्णकुमार, संदीप, अवशान सिंह की, जबकि तहसील डेरापुर में विनय सिंह, मोहम्मद साहेब की, जबकि अकबरपुर में राज मुकुट, सूरज सिंह की, भोगनीपुर में दिनेश दोहरे, विपिन द्विवेदी, मैथा में सौरभ कुमार और मनीष सिंह के ऊपर कार्यवाही करते हुए उनकी आईडी बन्द कर दी गयी है।