पुरुष नसबंदी के लिए से चलेगा अभियान

Spread the love

जालौन से ब्यूरो चीफ राहुल दुबे की रिपोर्ट

21 नवम्बर से चार दिसंबर तक पुरुष नसबंदी पखवाड़ा चलाने की तैयारी

जालौन, 20 नवंबर 2020 ।

‘परिवार नियोजन में पुरुषों की साझेदारी, जीवन में लाए स्वास्थ्य और खुशहाली’ थीम पर पुरुष नसबंदी पखवाड़ा का शुभारंभ कल शनिवार (21 नवम्बर) से होगा। इस पखवाड़े का उद्देश्य कोविड-19 काल में जनसंख्या स्थिरीकरण के लिए पुरुषों को जागरूक करने के साथ परिवार नियोजन के कार्यक्रम को गति प्रदान करना है । पुरुष नसबंदी पखवाड़े के दौरान जनसाधारण को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक किए जाने के लिए व्यापक स्तर पर प्रचार-प्रसार किया जाएगा।

मुख्य चिकित्सा अधिकारी डॉ अल्पना बरतारिया ने बताया कि आशा कार्यकर्ता अपने कार्यस्थल के हर लक्षित दंपति के घर भ्रमण के दौरान उन्हें परिवार नियोजन के लाभ बताते हुए कोई न कोई साधन अपनाने के लिए प्रेरित करेंगी। उन्होंने बताया कि इस बार ब्लाक स्तर पर ब्लाक कम्युनिटी प्रोसेस मैनेजर (बीसीपीएम) को जिम्मेदारी दी गई है कि वह आशा कार्यकर्ताओं के माध्यम से लोगों को नसबंदी के लिए प्रेरित करें।

परिवार नियोजन कार्यक्रम के नोडल अधिकारी डॉ. एसडी चौधरी ने बताया कि आशा कार्यकर्ता अपने कार् क्षेत्र के हर लक्षित दंपत्ति के घर पर दस्तक देने जा रही हैं। आशा दंपति को परिवार नियोजन के साधन उपलब्ध कराने के साथ ही पुरुषों को नसबंदी के लिए जागरूक करेंगी। इसके लिए स्वास्थ्य विभाग ने पुरुष नसबंदी पखवाड़ा 21 नवंबर से चार दिसंबर तक चलाने का निर्णय लिया है । कोशिश है कि अधिक से अधिक पुरुषों को परिवार नियोजन के प्रति जागरूक कर नसबंदी की सेवा मुहैया कराई जाए।

दो चरणों में चलेगा अभियान

पुरुष नसबंदी पखवाड़ा दो चरणों में चलेगा। 21 से 27 नवंबर के मध्य दंपत्ति संपर्क चरण और 28 से चार दिसंबर के बीच सेवा प्रदायगी चरण का आयोजन होगा। दोनों चरणों में आशा कार्यकर्ता अहम भूमिका निभाएंगी ।

वर्तमान में पुरुष नसबंदी बेहद जरूरी

डॉ. चौधरी का कहना है कि वर्तमान में कोविड-19 चल रहा है। वर्तमान स्थिति को देखते हुए पुरुष नसबंदी अधिक जरूरी है। महिला नसबंदी की तुलना में अपेक्षाकृत अधिक सुरक्षित और सरल है। पिछले साल जिले में 62 पुरुष नसबंदी हुई थी।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *