डीएम का औचक निरीक्षण खामियों के मिलने के बाद दिए निर्देश

जिलाधिकारी ने शिवली कान्हा गौशाला का किया निरीक्षण मिली खामियां, दिए निर्देश

ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर देहात

कानपुर देहात जनपद के नगर पंचायत शिवली के कान्हा गौशाला मे लगातार हो रही गोवंश की मौतों के मामले में जिलाधिकारी डॉ दिनेश चंद्र ने मौके पर पहुंच कान्हा गौशाला के हर बिंदुओं का जायजा लिया जहां गौशाला सुसज्जित तरीके से तैयार खड़ी है वहा पानी की समुचित ब्यवस्थाये भीहै वही गोवंश के भूसे चारे व दाने आदि की व्यवस्था में घोर लापरवाही प्रकाश में आई जिसके चलते जिलाधिकारी ने 3 दिनों में लगातार 9 गोवंशो के मौत का कारण भूख ही है। जानवरों को जहां पर्याप्त मात्रा में भूसा चारा व दाना इत्यादि नहीं उपलब्ध कराया गया जिसके चलते गोवंशो की मौतें हुई हैं इस मामले में शिवली अधिशाषी अधिकारी मेही लाल व पशु चिकित्सा अधीक्षक एके सिंह को इस मामले में प्रथम दृश्य दोषी माना गया। जिलाधिकारी डॉ दिनेश चंद ने बताया की संबंधित अधीनस्थ अधिकारियों ने न तो जिले में किसी प्रकार की समस्या के बाबत सूचना दी और ना ही इन अधिकारियों द्वारा गौशाला में कैद लगभग 158 गोवंशो को पर्याप्त मात्रा में गुणवत्ता परक भूसा चारा डालने का प्रबंध किया गया इस मामले में उक्त अधिकारियों के खिलाफ शासन को लिख कार्यवाही करायी जायेगी। यही नहीं उप जिलाधिकारी मैथा रामशिरोमणि को गौशाला की व्यवस्थाओं को देखने की जिम्मेदारी जिलाधिकारी द्वारा दी गई है जिससे गोवंशो को पर्याप्त मात्रा में भूसा चारा दाना मिल सके उन्होंने कहा गौशालाओं में किसी भी तरीके की लापरवाही क्षम्य नहीं होगी सरकार द्वारा जहां ₹30 प्रति जानवर धनराशि उपलब्ध कराई जा रही है वहीं भूसे आदि का भंडारण पर्याप्त मात्रा में है जिम्मेदार अधिकारी अपने-अपने क्षेत्रों की गौशालाओं का भ्रमण करते रहे और खामियों को दूर कराएं।