डीएम ने राजस्व वसूली की समीक्षा करते हुए दिए निर्देश

ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर देहात

राजस्व वसूली में लक्ष्य के सापेक्ष लाए प्रगति, लापरवाही नहीं होगी बर्दाश्त जिलाधिकारी

जिलाधिकारी डॉ0 दिनेश चन्द्र की अध्यक्षता में कलेक्ट्रेट सभागार में कर-करेत्तर एवं राजस्व वसूली की समीक्षा बैठक सम्पन्न हुई।

जिलाधिकारी ने कर-करेत्तर की समीक्षा करते हुये कहा कि राजस्व आय में आबकारी विभाग, परिवहन, स्टाम्प, खनन विभाग आदि में लक्ष्य के अनुरूप राजस्व की पूर्ति करें। उन्होंने खनन अधिकारी को निर्देश दिये कि भट्ठा मालिक रायल्टी जमा करने के उपरान्त ही भट्ठा चालू करेंगे, स्टाम्प के मामले में स्टाम्प वेन्डरों पर कड़ी नजर रखने के निर्देश दिये गये हैं और अवैध निष्कर्षण पर तेजी से कार्य करने के निर्देश दिये।
उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के चलते लोगों को मार्क्स लगाने के लिए प्रेरित करें तथा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराए तथा समस्त तहसीलोें की  साफ-सफाई, अभिलेखों रजिस्टर व शिकायत रजिस्टरों का रखरखाव सही तरीके से किया जाए। उन्होंने कहा कि इसमें किसी भी प्रकार की लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी।
जिलाधिकारी ने समीक्षा बैठक के दौरान संबंधित अधिकारियों को निर्देश देते हुए कहा कि कार्यों की प्रगति में किसी भी प्रकार की शिथिलता एवं लापरवाही बर्दाश्त नहीं की जाएगी और न ही विकास कार्यों में गुणवत्ता और मानक के साथ खिलवाड़ की अनदेखी की जाएगी। उन्होंने कहा कि शासन विकास के प्रति गंभीर और संवेदनशील है तथा विकास शासन की सर्वोच्च प्राथमिकताओं में से है और देश को विकसित प्रदेश की श्रेणी में लाने के लिए कटिबद्ध है। कोई भी अधिकारी लक्ष्य के सापेक्ष लापरवाही न करें और सभी कार्यों को पूर्ण गुणवत्ता के साथ निर्धारित समय सीमा में पूरा करना सुनिश्चित करें। उन्होंने समस्त अधिकारियों को निर्देशित करते हुए कहा कि आइ0जी0आर0एस0 पोर्टल पर जो शिकायतें आ रही हैं उन्हें पूरी गुणवत्ता के आधार पर निस्तारित करें। उन्होंने समस्त तहसीलदारों को विशेष अभियान चलाकर शत् प्रतिशत फीडिंग कराने के निर्देश दिये उन्होंने कहा कि भू माफियाओं पर कड़ी नजर रखें तथा सरकारी जमीन को कब्जा मुक्त कराएं बैठक में मुख्य बिंदुओं पर विस्तार से चर्चा की गई इस मौके पर अपर जिलाधिकारी प्रशासन पंकज वर्मा, अपर जिलाधिकारी वित्त एवं राजस्व साहब लाल समस्त एसडीएम आदि उपस्थित रहेl