दो दिन से लापता युवक का नदी में मिला शव मचा कोहराम

सहयोगी तस्लीम के साथ ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर देहात

लापता युवक का शव मिलने से मचा हड़कंप

कानपुर देहात, पुखरायां कस्बे के अम्बेडकर नगर से गत 1 अक्टूबर की रात्रि घर से गायब हुए युवक की सोमवार को जगदीशपुर गांव के पास निकली सेंगुर नदी के पुल के नीचे शव मिला। शव मिलने की सूचना पाकर स्थानीय प्रशासन सहित आला अधिकारी मौके पर जा पहुंचे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा।
मालूम हो कि पुखरायां कस्बे के अंबेडकर नगर निवासी राज नारायण पुत्र अवधेश कुमार ने गत 2 अक्टूबर को पुलिस को दिए गए प्रार्थना पत्र में बताया गया था कि उसका बड़ा भाई सुरेश कुमार उर्फ लाखन उसके साथ ही मकान के नीचे वाले खंड में रहता है गत 2 अक्टूबर को प्रातः 6:00 बजे जब वह नीचे आया तो उसे कमरे का ताला बंद मिला और भाई कमरे में नहीं था। जानकारी करने के लिए जब उनको फोन किया गया तो उनका फोन बंद मिला और उनसे कोई संपर्क नहीं हो पाया। जिस पर उसने स्थानीय थाने में प्रार्थना पत्र दिया था जिस पर स्थानीय पुलिस ने गुमशुदगी की सूचना दर्ज कर ली थी और पुलिस निरंतर लाखन की तलाश में जुटी रही। लेकिन स्थानीय पुलिस उक्त युवक का कोई सुराग नहीं लगा सकी।
वहीं परिजनों ने अपहरण की आशंका जताई थी और बताया कि गायब होने के 1 दिन पूर्व रात्रि में कुछ लोग उसके घर आए थे और साथ में खाना पीना भी हुआ था। जिसके बाद सुबह वह घर से गायब मिला और घर में रखा जेवरात व नगदी भी गायब मिले थे। जिस पर पुलिस ने कस्बे के कुछ युवकों को पूछताछ के लिए हिरासत में लिया था।
सोमवार को युवक की जगदीशपुर गांव के पास से निकली सेंगुर नदी के पुल के नीचे लाश मिली। शव में पत्थर व बजनीली चीजें बांध कर शव को दबा दिया गया था। शव मिलने की सूचना पर स्थानीय पुलिस सहित पुलिस अधीक्षक, अपर पुलिस अधीक्षक सहित आला अधिकारी मौके पर जा पहुंचे। पुलिस ने शव को पोस्टमार्टम के लिए भेजा है।
मृतक लाखन की पत्नी उत्तर प्रदेश पुलिस में महिला थाना उन्नाव में तैनात हैं। लाखन को एक बेटी भी है। शव मिलने की सूचना पर मृतक की पत्नी शैफाली सिंह, पुत्री वर्षा, ससुर राजेंद्र, भाई राज नारायण सहित अन्य परिवारी जनों का रो रो कर बुरा हाल है। वहीं पुलिस अधिकारी का कहना है कि तहरीर के आधार पर जांच की जा रही और कड़ी कार्यवाही की जाएगी।