धनबल, बाहुबल को चुनाव में रोकना चुनौती !

ब्यूरो रिपोर्ट समाचार भारती-

इलेक्शन लोकतंत्र की महत्वपूर्ण परम्परा है, जिसे निभाना हम सबका अधिकार ही नही फर्ज़ है। और इसे पूर्ण विश्वाश के साथ किया जाना चाहिए। खासतौर पर आज के समय में चुनाव के दौरान बढ़ रहे धनबल और बाहुबल को रोक पाना बेहद चुनौतीपूर्ण है। लेकिन जागरूकता के जरिये निष्पक्ष चुनाव को संपन्न किया जा सकता है। ये बाते एसोसिएशनफॉर डेमोक्रेटिक रिफार्म के राज्य संयोजक संतोष श्रीवास्तव ने लखनऊ घसियारी मंडी स्थित बाबा ठाकुरदास इंटर मीडिएट कॉलेज प्रांगड़ में बच्चों के सामने रखी।

कार्यक्रम का मकसद था चुनाव में जागरूकता फैलाना, बच्चों के सामने तमाम तरह के उदाहरण रखे गये। जिनमे जागरूकता के जरिये चुनाव में पारदर्शिता की बात भी सामने आई।

प्रवक्ता मनीष गुप्ता ने जहाँ एक तरफ ADR की प्रष्टभूमि और किये गये कार्यों का विवरण रखा, तो वहीँ समन्वयक दीपक कुमार ने जागरूकता को लोकतन्त्र का सबसे बड़ा हथियार कहा। कॉलेज के प्रधानाचार्य सुधाम चंद चांदवानी ने कहा, आज के समय में जागरूकता ही एक ऐसा विकल्प जिसके जरिये अपराधियों को जनप्रतिनिधि बनने से रोका जा सकता है।

खासतौर से पढ़े लिखे युवाओं को आगे आकर चुनाव में हिस्सा लेकर देश के विकास के बारे में अवश्य सोचना चाहिए। तमाम अनुभवों को साझा करते हुए ADR की टीम ने बच्चों के बीच सीधा संवाद स्थापित किया। बच्चों ने भी तमाम सवालों चुनाव प्रक्रिया और लोकतंत्र के रक्षा किये जाने से जुड़े तमाम सवालों को जाना और महत्वपूर्ण भागीदारी निभाए जाने का संकल्प लिया।