प्रयागराज पुलिस ने पेश की इंसानियत की मिसाल

प्रयागराज से ब्यूरो चीफ जफरुल हसन की रिपोर्ट

,ट्रेन पर अपनों से बिछड़े मासूम को जीआरपी ने मिलाया
परिजनों से बिछड़े एक मासूम को जीआरपी रामबाग की पुलिस ने उसे परिजनों तक पहुंचाया है। मासूम सोमवार को अपने परिजनों से बिछड़ कर रामबाग स्टेशन पहुंच गया था रामबाग जीआरपी चौकी प्रभारी लल्लन सिंह यादव सोमवार को स्टेशन पर घूमने वाले अराजक तत्वों और ट्रेनों की चेकिंग के लिए निकले थे इस दौरान उन्हें पटना सिकंदरा एक्सप्रेस पर एक 6 वर्ष का मासूम बच्चा रोते बिलखते हुए दिखाई पड़ा जो परिजनों से बिछड़ गया था
पुलिसकर्मियों के पूछताछ के दौरान वह बच्चा कुछ बताने को तैयार नहीं था
तभी जीआरपी चौकी प्रभारी उसे अपने साथ चौकी ले आए वहां उसे खानपान की व्यवस्था के बाद बहला-फुसलाकर पूछा गया तो उसने अपना नाम रुद्राक्ष पता वाराणसी बताया जीआरपी चौकी प्रभारी ने संवेदनशीलता की मिसाल पेश करते हुए ना सिर्फ मासूम की रखवाली की बल्कि उन्हें परिजनों के सुपुर्द किया वाराणसी जीआरपी से संपर्क साधा तो परिजनों से तार जुड़ गए दोपहर में वाराणसी पांडेपुर निवासी नीतिस सिंह पुत्र बच्चा सिंह बदहवास हालत में रामबाग स्टेशन पहुंचे मासूम को सलामत देख परिजन का चेहरा खुशी से चमक उठा पुलिस ने लिखा पढ़ी के बाद मासूम को उनके अभिभावक के सुपुर्द कर दिया उधर पुलिस के इस कदम की प्रशंसा लोग इस कदर कर रहे हैं जैसे बजरंगी भाईजान फिल्म में सलमान खान ने पाकिस्तानी बच्ची मुन्नी को उसके परिजनों से मिलाने का काम किया था रामबाग स्टेशन पर तैनात दरोगा लल्लन सिंह यादव की जमकर सराहना मुसाफिरों समेत क्षेत्री लोगों ने किया है