भजन गायक नरेन्द्र चंचल का निधन

ब्यूरो चीफ़ आरिफ मोहम्मद कानपुर

भजन गायक नरेंद्र चंचल का आज निधन हो गया। दिल्ली में अपोलो अस्पताल में उन्होंने दोपहर करीब 12.15 पर अंतिम सांस ली। चंचल पिछले 3 महीने से बीमार थे तथा उनका इलाज चल रहा था। कई प्रसिद्ध भजनों के साथ-साथ चंचल ने हिंदी फिल्मों में कई गाने भी गाएं। भजन गायकी में चंचल एक खास स्थान रखते थे। करीब 80 साल के नरेंद्र चंचल पंजाब ही नहीं बल्कि उत्तर भारत में अपनी भजन गायकी के कारण एक बेहतर मुकाम रखते थे। चंचल को जगराते में बुलाने को लेकर पंजाब तथा उत्तर भारत में एक अलग ही क्रेज था। उनकी एक झलक पाने के लिए लोगों का तांता लग जाता था।
1940 में नमक मंडी अमृतसर में पैदा हुए नरेंद्र चंचल ने 1973 में पहली बार हिंदी फिल्म में गाना गाया था उन्होंने ‘बॉबी’ फिल्म में ‘बेशक मंदिर मस्जिद तोड़ों’ के बाद ‘बेनाम’ फिल्म का ‘मैं बेनाम हो गया’ गाना सुपर-डुपर हिट था। इस गाने से चंचल ने बॉलीवुड में अपना एक अलग नाम बना लिया। हाल ही में चंचल ने कोरोना को लेकर एक गाना गाया था जो काफी वायरल हुआ था। 1994 से लगातार चंचल माता वैष्णो देवी दरबार में नव वर्ष पर आयोजित होने वाले वार्षीक जागरण में हाजिरी लगाते थे।