मंडलायुक्त का औचक निरीक्षण

मंडलायुक्त आयुक्त मुकेश मेश्राम ने कैंट रोड स्थित निर्यात भवन का औचक निरीक्षण किया।

लखनऊ से वरिष्ठ संवाददाता अभिनव शर्मा की रिपोर्ट मंडला आयुक्त मुकेश मेश्राम ने आज सुबह अचानक कैंट रोड स्थित निर्यात भवन जिसमें जिला उद्योग केंद्र , संयुक्त आयुक्त उद्योग एक्सपोर्ट, प्रमोशन ब्यूरो एवं जैम शेल का औचक निरीक्षण किया । अचानक किए गए निरीक्षण से निर्यात भवन में हड़कंप मच गया। निरीक्षण के समय जिला उद्योग केंद्र कार्यालय में स्थापित हेल्प डेस्क में कोई भी कर्मचारी बैठा हुआ नहीं मिला । साथी कार्यालय के एक छोटे से चेंबर में आठ-दस व्यक्ति सटकर बिना सोशल डिस्टेंसिंग बनाए बैठे हुए थे । जिसे देखकर मंडला आयुक्त ने सभी कर्मचारियों को फटकार लगाई। दो कर्मचारी बिना मास्क पहने बैठे हुए थे। दोनों कर्मचारियों का 500 रूपये का चालन कर के चेतावनी देकर छोड़ दिया। जिला उद्योग केंद्र कार्यालय का भी निरीक्षण किया ।जहां अलमारियों में जंग व फाइलों के रखरखाव को भी देखा । साफ सफाई के निर्देश भी दिए ।कोविड -19 का बैनर लगाने का निर्देश दिया । उपायुक्त उद्योग कार्यालय की खस्ताहाल को देखकर निर्माण में प्रयोग की जा रही खराब सामग्री तथा कार्य को अधूरा छोड़ कर जाने वाली संस्था के ठेकेदार के विरुद्ध एफ० आई०आर दर्ज कराकर रिकवरी की जाए । निर्यात भवन के पीछे निरीक्षण में काफी गंदगी पाई गई ।जिसको हटाकर वृक्षारोपण लगवाने को कहा गया । जो कर्मचारी देरी से आते हैं । उनको चिन्हित करके कर चेतावनी पत्र जारी किया जाए । और कर्मचारियों सोशल डिस्टेंसिंग के अनुसार बैठे हव कार्य करें।
इस औचक निरीक्षण में मंडला आयुक्त मुकेश मेश्राम के साथ संयुक्त आयुक्त उद्योग पवन अग्रवाल ,जिला उद्योग अधिकारी मनोज कुमार सहित अन्य अधिकारी उपस्थित रहे।