मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पर्यावरण सुरक्षा सप्ताह की शुरूआत सी.एम.एस. गोमती नगर में वृक्षारोपण कर किया

 

राज्य मुख्यालय से राजेश गौतम की रिपोर्ट

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने पर्यावरण सुरक्षा सप्ताह की शुरूआत सी.एम.एस. गोमती नगर में वृक्षारोपण कर किया

लखनऊ, 1 जुलाई। मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने आज सिटी मोन्टेसरी स्कूल, गोमती नगर एक्सटेंशन के प्रांगण में वृक्षारोपण कर पर्यावरण सुरक्षा सप्ताह की शुरूआत की। प्रदेश सरकार एक जुलाई से पर्यावरण सुरक्षा सप्ताह मना रही है, जिसमें एक सप्ताह में 30 करोड़ वृक्षारोपण का लक्ष्य है। इसी पर्यावरण सुरक्षा सप्ताह की शुरूआत आज मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सी.एम.एस. गोमती नगर के प्रांगण में पीपल का वृक्ष लगाकर की। इस अवसर पर बोलते हुए मुख्यमंत्री ने कहा कि पर्यावरण सुरक्षा सप्ताह का अभिप्राय पूरे प्रदेश को हरा-भरा बनाने के साथ-साथ जनमानस को शुद्ध हवा, पानी व आक्सीजन देना है। आज इसकी शुरूआत पीपल के पौधे से की है, पीपल का पौधा सर्वाधिक आक्सीजन के साथ शुद्ध हवा, छाया, पानी बरसाने में मदद के साथ ज्ञान भी देता है। भगवान बुद्ध को पीपल के वृक्ष की छाया में ही ज्ञान प्राप्त हुआ था, इसीलिए पीपल का पेड़ हमारी सांस्कृतिक धरोहर के साथ पूजनीय भी है। मैं सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी व डा. भारती गाँधी को बधाई देता हूँ जिन्होंने वृक्षारोपण के इस कार्यक्रम में पर्यावरण संवर्धन में महत्वपूर्ण भूमिका निभाने वाले इस वृक्ष को प्राथमिकता दी है। सी.एम.एस. की प्रशंसा करते हुए मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने कहा कि मुझे अत्यन्त प्रसन्नता है कि सी.एम.एस. के छात्र पढ़ाई में कीर्तिमान स्थापित करने के साथ ही सामाजिक कार्यो में बढ़चढ़कर अहम भूमिका निभा रहे हैं।

सी.एम.एस. संस्थापक डा. जगदीश गाँधी ने इस अवसर पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का हार्दिक स्वागत करते हुए कहा कि हमारे मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ ने उत्तर प्रदेश को उत्तम प्रदेश बना दिया है। चाहे वह शिक्षा का क्षेत्र हो या महिला सुरक्षा, आर्थिक क्षेत्र व अन्य, सभी क्षेत्रों में योगी जी ने जो साहसिक कदम उठाये है, वह प्रशंसा के योग्य है। डा. गाँधी ने कहा कि सी.एम.एस. के अन्य कैम्पसों में वृक्षारोपण कार्यक्रम आयोजित किये जायेंगे, जिसमें पर्यावरण का स्चच्छ करने वाले पौधे, चिकित्सकीय पौधे और खासकर आॅक्सीजन की मात्रा में वृद्धि करने वाले पौधे विशेष रूप से रोपित किये जायेंगे। इस अवसर पर सी.एम.एस. संस्थापिका-निदेशिका डा. भारती गाँधी ने भी अपने विचार व्यक्त किये।

इससे पहले, कार्यक्रम की शुरूआत मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ द्वारा दीप प्रज्वलन से हुई तथापि वृक्षारोपण की आवश्यकता व महत्ता पर आधारित मल्टीमीडिया प्रजेन्टेशन सभी के आकर्षण का केन्द्र रहा। इस अवसर पर प्रदेश सरकार के अपर मुख्य सचिव गृह श्री अवनीश अवस्थी, आई.ए.एस., अपर मुख्य सचिव सूचना श्री नवनीत सहगल, आई.ए.एस., जिलाधिकारी, लखनऊ, श्री अभिषेक प्रकाश, आई.ए.एस., सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी, सी.एम.एस. के चीफ एक्जीक्यूटिव आॅफीसर श्री रोशन गाँधी, सी.एम.एस. के क्वालिटी अश्योरेन्स एवं इनोवेशन डिपार्टमेन्ट की हेड सुश्री सुष्मिता बासु एवं सी.एम.एस. के विभिन्न कैम्पस की प्रधानाचार्याओं के अलावा सुश्री सुनीता गाँधी उपस्थित रहीं।

इस वृक्षारोपण कार्यक्रम में सी.एम.एस. के 55,000 छात्रों के पाँच प्रतिनिधि छात्रों वेदांश सिंह, शरण्या अग्रवाल, नवीशा सिंह, गौरांग चटर्जी एवं प्राची मदनानी ने वृक्षारोपण कर प्रकृति प्रदत्त धरती को हरी-भरी व खुशहाल बनाने का अभूतपूर्व संदेश दिया। सी.एम.एस. प्रेसीडेन्ट प्रो. गीता गाँधी किंगडन ने कार्यक्रम में पधारे सभी महानुभावों व मुख्यमंत्री श्री योगी आदित्यनाथ के प्रति हार्दिक आभार व्यक्त किया।