मोस्ट पीपुल्स एसोसिएशन बैकवर्ड ओबीसी एससी एसटी एडमिनिस्टरिंग जन आंदोलन के तहत बेरोजगार किसान मजदूर एवं भू आंदोलन

प्रयागराज से ब्यूरो चीफ जफरुल हसन की रिपोर्ट

प्रयागराज थाना सिविल लाइन क्षेत्र गिरजा घर के पास मोस्ट पीपुल्स एसोसिएशन का एक जन आंदोलन देखने को मिला दूर-दूर से किसान मजदूर बेरोजगार वो तमाम ऐसे छोटे-छोटे मुद्दों को लेकर जो इस आंदोलन में लोग शामिल हुए आंदोलन स्थल पर भारी तादाद में पुलिस की मौजूदगी रही ।

आंदोलन आंदोलनकारियों की प्रमुख मांगे हैं:

  1. सरकारी संस्थानों का निजीकरण विनिवेश निजी हाथों में बेचना करना जनता के अधिकारों को खत्म कर राज्य तंत्र की वापसी का कुचक्र है इसलिए तत्काल इसको बंद कर सभी निजी करण किए गए संस्थानों का राष्ट्रीयकरण किया जाए एवं संविदा भर्ती बंद करें।
  2. नए कृषि विधेयक को खत्म कर राष्ट्रीय किसान आयोग का गठन कर किसानों की मासिक आय कम से कम चतुर्थ श्रेणी सरकारी कर्मचारी के बराबर निर्धारित की जाए
  3. ओबीसी की जातिवार जनगणना कराई जाए तथा सभी जाति वर्गों को आबादी के अनुपात में सभी क्षेत्रों विधायिका कार्यपालिका न्यायपालिका व सरकारी संस्थानों में हिस्सेदारी सुनिश्चित किया जाए तथा क्रीमी लेयर तत्काल खत्म कर ओबीसी के 60% आरक्षण सुनिश्चित किया जाए।
  4. उत्तर प्रदेश राजस्व संहिता 2006 की धारा 63 64 के आधीन आवासीय एवं धारा 126 के आधीन कृषि हेतु कम से कम पांच 5 बीघे जमीन भूमिहीनों एवं कृषि मजदूरों/ आपेक्षित वर्गों को देना सुनिश्चित किया जाए।
  5. उच्च एवं उच्चतर न्यायपालिका के जजों की नियुक्ति में ओबीसी एससी एसटी माइनॉरिटी को भी पर्याप्त प्रतिनिधित्व दिया जाए
  6. भारत में एक राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत सम्मान एवं मुफ्त शिक्षा नीति लागू किया जाए।
  7. कोल (आदिवासी), मुसहर, बेंबन्स (धरकार) का आदि जातियों को उत्तर प्रदेश में भी जनजातियां एसटी का दर्जा देकर जनजातियां सुविधाएं देना सुनिश्चित करें।
  8. शराब जैसी सभी मादक पदार्थों वह जीव हत्या पर सरकार तत्काल प्रतिबंध लगाए ताकि देश में हिंसा रोक सके एवं पर्यावरण संरक्षित हो सके।
  9. महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए महिला विरोधी दहेज व दहेज हत्या के अपराध को जड़ से समाप्त करने हेतु महिलाओं को भी पैतृक संपत्ति में समान अधिकार हेतु सरकार जन जागरण अभियान चलाकर बने कानून को अमल करवाएं।
  10. देश में सांसदों और विधायकों व अन्य जनप्रतिनिधियों की पेंशन व अन्य सुविधाएं तत्काल बंद की जाए।