यूपी एटीएस ने की तीन और गिरफ्तारियां, शकील, मोहम्मद मुस्तकीम और मोहम्मद मईद के नाम सामने

 

वरिष्ठ छायाकार पंकज जोशी के साथ संतोष कुमार की रिपोर्ट

 

ऊत्तर प्रदेश आतंक निरोधी दस्ता (यूपी एटीएस) ने रविवार को राजधानी लखनऊ से अलकायदा के अंसार गजवातुल हिंद माड्यूल के दो आतंकी मिनहाज अहमद व मसीरुद्दीन उर्फ मुशीर को गिरफ्तार करने के बाद बुधवार को तीन और गिरफ्तारियां की हैं। पुलिस रिमांड के दौरान दोनों से पूछताछ में लखनऊ के ही रहने वाले शकील, मोहम्मद मुस्तकीम और मोहम्मद मईद के नाम सामने आए। इनको हिरासत में लेकर पूछताछ के लिए एटीएस मुख्यालय बुलाया गया। इस दौरान तीनों ने स्वीकार कर लिया कि ये भी आतंकी साजिश में शामिल थे। इसके बाद तीनों को एटीएस ने गिरफ्तार कर लिया।

आतंकी संगठन अलकायदा समर्थित अंसार गजवातुल हिंद से जुड़े दो आतंकियों मिनहाज अहमद व मसीरुद्दीन लखनऊ से दबोचने के बाद एटीएस ने इनके तीन और साथी शकील, मोहम्मद मुस्तकीम और मोहम्मद मईद को भी गिरफ्तार किया है। शकील लखनऊ के बांसमंडी एलाके का रहने वाला है। मोहम्मद मईद लखनऊ के ही न्यू हैदरगंज कैंपल रोड का निवासी है। वहीं मोहम्मद मुस्तकीन मूल रूप से मुजफ्फरनगर का रहने वाला है और लखनऊ में सीतपुर रोड स्थित मदेय गंज में रह रहा है।

बता दें कि दुर्दांत आतंकी संगठन अलकायदा उत्तर प्रदेश को दहलाने की बड़ी साजिश रच रहा था। आतंकी मंसूबे स्वतंत्रता दिवस से पहले कई शहरों में धमाकों के थे। इतना ही नहीं, अयोध्या, मथुरा व काशी में भी आतंकी घटनाओं का षड्यंत्र था। एटीएस ने मुस्तैदी से इस बड़ी साजिश को नाकाम किया है। रविवार को आतंकी संगठन अलकायदा समर्थित अंसार गजवातुल हिंद से जुड़े दो आतंकियों मिनहाज अहमद व मसीरुद्दीन लखनऊ से गिरफ्तार किए गए हैं। उस दौरान उनके दो साथी भाग निकले थे। अब एटीएस इनसे जुड़े अन्य आतंकियों को भी बेनकाब कर रही है।