यूपी एसटीएफ ने फर्जी शिक्षकों से वसूली करने वाले फर्जी शिक्षक को दबोचा

लखनऊ से वरिष्ठ संवाददाता अभिषेक गौड़ की रिपोर्ट

यूपी एसटीएफ ने फर्जी शिक्षकों से वसूली करने वाले फर्जी शिक्षक को दबोचा।

खुद और पत्नी फर्जी शिक्षक बनकर बाराबंकी में नौकरी कर रहे, दूसरे फर्जी शिक्षकों से करने लगे वसूली।

मानव संपदा पोर्टल का अधिकारी बनकर फर्जी शिक्षकों से वसूली करने वाले तीन लोग गिरफ्तार।

गेम का मास्टरमाइंड यदुनंदन यादव खुद प्रमोद सिंह बनकर बाराबंकी के बनी-कोडर में कर रहा नौकरी।

जालसाज यदुनंदन की पत्नी श्रीलता अर्चना पांडे बनकर बाराबंकी के गदिया में कर रही नौकरी।

विभूतिखंड में जालसाज यदुनंदन दूसरे फर्जी शिक्षक आशीष सिंह उर्फ प्रमोद यादव से वसूली करने आया था।

प्रमोद यादव, आशीष सिंह बनकर गोरखपुर के बड़हलगंज में कर रहा अध्यापक की नौकरी।

मानव संपदा पोर्टल से फर्जी शिक्षकों की सूची निकालकर ब्लैकमेल करने वाला जालसाज यदुनंदन, अपने भाई और फर्जी शिक्षक के साथ गिरफ्तार।

फर्जी दस्तावेजों से सीआरपीएफ में भी भर्ती होने पर गोरखपुर के सहजनवा से गिरफ्तार कर जेल जा चुका यदुनंदन यादव।

यूपी एसटीएफ ने विभूतिखंड थाना क्षेत्र से किया यदुनंदन यादव समेत तीन को गिरफ्तार।

8 लाख नगदी व तमाम फर्जी दस्तावेज बरामद।।