लखनऊ कमिश्नरेट पुलिस द्वारा अजीत सिंह हत्याकांड का शूटर, पकड़ा गया

लखनऊ से वरिष्ठ संवाददाता अभिनव शर्मा की रिपोर्ट:

लखनऊ के विभूति खंड क्षेत्र में पूर्व ब्लाक प्रमुख अजीत सिंह हत्याकांड में लखनऊ पुलिस को बड़ी सफलता मिली। लखनऊ के संयुक्त पुलिस आयुक्त क्राइम नीलाब्जा चौधरी ने बताया कि अजीत सिंह हत्या कांड में पकड़े का शूटर संदीप सिंह ने घटना को अंजाम दिया है। पिछले एक वर्ष से घटना को अंजाम देने की कोशिश कर रहे थे। हत्या अजीत सिंह की हत्या ध्रुव कुमार उर्फ कुंटू सिंह व अखंड प्रताप सिंह के कहने पर की गई है।
अपराधी संदीप सिंह ने बताया कि घटना वाले दिन अपने साथी गिरधारी उर्फ कन्हैया,रवि यादव, शिवेंद्र सिंह, राजेश तोमर व बंटी के साथ मिलकर घटना को अंजाम दिया। जिसमें राजेश तोमर घायल हो गया था। पुलिस द्वारा कड़ाई से पूछे जाने पर शूटर संदीप सिंह ने बताया अजीत सिंह की हत्या करने के बाद सभी लोग कमता बस स्टैंड के पहुंच कर। अपनी मोटरसाइकिल को छोड़ कर घायल राजेश तोमर को लेकर लाल कलर की डस्टर गाड़ी में बैठकर अलकनंदा अपार्टमेंट अवध विहार योजना के पहुंचे। घटना में इस्तेमाल पिस्टल शिवेंद्र सिंह को दे दी। सभी लोग देर रात घायल राजेश तोमर को लेकर कहीं चले गए।
लखनऊ पुलिस कमिश्नरेट की टीम ने शूटर संदीप सिंह की निशानदेही पर अलकनंदा अपार्टमेंट गोमती विस्तार के फ्लैट से एक पिस्टल व पांच जिंदा कारतूस बरामद किया है। शूटर संदीप सिंह पर चंदौली का हिस्ट्रीशीटर भी है,अन्य जनपदों में भी कई मुकदमा दर्ज हैं। लखनऊ कमिश्नर पुलिस बाकी शूटरों को लेकर ताबड़तोड़ छापेमारी कर रही है। शूटर संदीप सिंह को पकड़ने में विभूति खंड इस्पेक्टर चंद्र शेखर सिंह, उप निरीक्षक अनिल कुमार सिंह व (क्राइम ब्रांच) आलोक कुमार, अमित साहू सहित अन्य पुलिसकर्मी की अहम भूमिका रही।