संयुक्त जिला चिकित्सालय का निरीक्षण, लापरवाही पाये जाने पर लगाई फटकार, जिलाधिकारी

ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर देहात

जिलाधिकारी डॉ0 दिनेश चंद्र ने संयुक्त जिला चिकित्सालय का औचक निरीक्षण को पहुचे, निरीक्षण के दौरान अस्पताल के प्रवेश गेट पर ही बायोवेस्ट कचरा पड़ा मिला जिस पर नाराजगी जाहिर करते हुए कार्यवाही के निर्देश दिये है। वहीं महिला सीएमएस डा. शुभ्रा मिश्रा व प्रभारी पुरुष सीएमएस डा. बीपी सिंह भी निरीक्षण के दौरान अस्पताल आते मिले जबकि संयुक्त चिकित्सालय का 8ः00 से 2ः00 तक ओपीडी का निर्धारित समय है इलाज हेतु आये मरीजों ने समय पर ओपीडी न होने का आरोप लगाया। वहीं जिलाधिकारी ने अस्पताल परिसर में गंदगी को लेकर नाराजगी प्रकट करते हुए महिला व पुरुष सीएमएस को कड़ी फटकार लगाते हुए जुर्माने की कार्यवाही के निर्देश दिए और बुखार सम्बन्धी 40 बेड वाले वार्ड का संचालन अतिशीघ्र करने के भी निर्देश दिए तथा 30 सैय्या वाली महिला हॉस्पिटल के संचालन को बंद मिलने के मामले में भी नाराजगी जाहिर की वही जिलाधिकारी ने महिला अस्पताल व 100 सैय्या एमसीएच  सेंटर  की समुचित रिपोर्ट मुख्य विकास अधिकारी को जांच कर रिपोर्ट तैयार करने के निर्देश दिए हैं। वही औषधि वितरण कक्ष में कुछ दवाएं न होने पर जिलाधिकारी ने औषधि वितरण प्रभारी से जानकारी ली तथा दवा संबंधी पर्चियों का तिथि वार सही तरीके से रखरखाव न होने के मामले में जिलाधिकारी ने नाराजगी प्रकट की तथा जिलाधिकारी ने कहा कि निचले क्रम के कर्मचारी संतोषजनक कार्य करते मिले किंतु उच्च स्तरीय अधिकारियों की लापरवाही मिली है जिस पर कार्रवाई की जाएगी। निरीक्षण के दौरान अनुपस्थित मिले डाक्टरों व कर्मचारियों के मामले में जिलाधिकारी ने लापरवाही को सुधारने के निर्देश दिए हैं कि अगले निरीक्षण में विभागीय कार्यवाही के भी निर्देश दिए है। इसी कड़ी में जिलाधिकारी के निर्देश पर मुख्य चिकित्सा अधिकारी ने 100 सैय्या एमसीएच सेंटर का निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान डॉक्टरों की ओपीडी कक्ष में गन्दी चादरें मिली जबकि तोलिया व साबुन न मिलने पर सीडीओ ने नाराजगी प्रकट की इस मौके पर अतिरिक्ति मजिस्ट्रेट राजीव राज आदि अधिकारीगण व कर्मचारी, चिकित्सक उपस्थित रहे।