सेल्फ डिफेंस के छात्रों को गोल्ड और शिल्वर मेडल से किया गया सम्मानित

ब्यूरो चीफ़ आरिफ़ मोहम्मद कानपुर

इन दिनों महिलाओं के साथ अपराध की घटनाएं तेजी से बढ़ रही हैं। ऐसे में इन घटनाओं के डरकर रहा भी नहीं जा सकता और न ही किसी अनहोनी का इंतजार किया जा सकता है। इसके लिए बेहतर यही होगा कि हर महिला अपनी सुरक्षा की जिम्मेदारी खुद पर ले, सतर्क रहें और हर मुशीबत से लड़ने के लिए हमेशा तैयार रहें।
मिशन शक्ति को लेकर आज कानपुर के महिला एवं बाल विकास कार्यालय में महिला शसक्तीकरण को लेकर कार्यक्रम किया गया। जिसमें कानपुर के जुडो मार्शल आर्ट और हैप्कीडो संस्थान के प्रतिभागियों ने भाग लिया। और अपना कौशल दिखाया। वहीं इस मौके पर नेशनल और इंटरनेशनल स्तर पर खेल चुके प्रतिभागियों को गोल्ड मेडल और शिल्वर मेडल के साथ प्रसास्ति पत्र देकर सम्मानित भी किया गया। वहीं इस मौके पर महिला एवं बाल विकाश कल्याण की निदेशक श्रुति शुक्ला और हैप्कीडो बॉक्सिंग के वॉइस प्रेसिडेंट आज़ाद सिंह भी मौजूद रहे। संस्थान के हैप्कीडो और मार्शलआर्ट के कोच आज़ाद सिंह के निर्देशन में प्रतिभागियों ने सेल्फ डिफेंस के कुछ दांव पेंच और किक पंच का प्रयोग करते हुए लोगों को ट्रेनिग के कुछ टिप्स दिखाये। और सेल्फ डिफेंस के बारे में महिलाओं को जागरूक भी किया।
आपको बतादें कि कानपुर के रावतपुर में लगभग 18 साल से चल रहे सेल्फ डिफेंस की ट्रेनिंग की क्लास से प्रदेश के कई जिलों से छात्र प्रशिक्षण लेकर खुद को और दूसरों को सेल्फ डिफेंस के गुण सिखा रहे हैं। इस संस्थान से प्रशिक्षित छात्र लोगों को आत्मनिर्भर बनाने के साथ अपना, अपने परिवार और अपने देश का नाम रोशन कर रहे हैं। इसमें अहम बात ये है कि महिलाओं को आत्मनिर्भर बनाया जा रहा है।