हजरतगंज स्थित गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने पहुंचे कार्यकर्ताओं पर चली लाठी और विधायकों को गिरफ्तार किया गया ।

वरिष्ठ संवाददाता अभिनव शर्मा की रिपोर्ट

राष्ट्रपिता महात्मा गांधी की जयंती पर शुक्रवार सुबह समाजवादी पार्टी के कार्यकर्ताओं ने हजरतगंज स्थित महात्मा गांधी प्रतिमा स्थल पर मौन व्रत रख उत्तर प्रदेश के हाथरस व बलरामपुर कांड पर सरकार व प्रशासन की लापरवाही को लेकर आक्रोश जताया। देखते ही देखते सैकड़ों की संख्या में कार्यकर्ता एकजुट होकर प्रदर्शन व नारेबाजी करने लगे। मौके पर मौजूद पुलिस ने कार्यकर्ताओं को शांत कराकर हटाने का प्रयास किया। इस दौरान पुलिस और कार्यकर्ताओं के बीच नोकझोंक शुरू हो गई। कार्यकर्ताओं के ना मानने पर पुलिस को हल्के बल का प्रयोग करना पड़ा। सपा कार्यकर्ता फिर सड़कों पर आकर नारेबाजी करने लगे। हालात नियंत्रण से बाहर जाते देखकर पुलिसकर्मियों ने लाठीचार्ज कर प्रदर्शनकारियों को खदेड़ने का प्रयास किया। इस दौरान दो सौ से ऊपर कार्यकर्ताओं को हिरासत में भी लिया गया है। 
पुलिस ने प्रदर्शन में शामिल पूर्व विधायक इंदल रावत को भी हिरासत में लिया गया है। सपाइयों का कहना है कि प्रदेश में जंगलराज है। कानून-व्यवस्था पूरी तरह फेल हो चुकी है।

वही समाजवादी पार्टी के कार्यालय के पास थोड़ी ही दूर पर समाजवादी पार्टी के सभी विधायक नेता प्रतिपक्ष राम गोविंद चौधरी, प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम ,सपा नेता सुनील सिंह साजन सहित सभी विधायक गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण करने के लिए जा रहे थे । पुलिस द्वारा रोके जाने पर अपनी मांगों को लेकर जमीन में बैठ गए। विधायकों की मांग थी कि हम शांतिपूर्वक गांधी जी की जयंती पर गांधी प्रतिमा पर माल्यार्पण करना चाहते हैं । लेकिन मौके पर मौजूद पुलिस बल ने 20 से ज्यादा विधायकों गिरफ्तार कर पुलिस लाइन भेज दिया।