हरदोई में अभी भी कायम है अधिकारियों का जंगल राज

कोटे के चयन में अधिकारियों की मिलीभगत से किया जा रहा पक्षपात

संवादाता संतोष कुमार सिंह हरदोई

हरदोई। टोंडरपुर ब्लाक क्षेत्र की सलेमपुर राय ग्राम पंचायत के पूर्व कोटेदार विजय गुप्ता की मौत के बाद सरकारी राशन की दुकान का चयन करने पहुंचे खण्डविकास अधिकारी ऋषि पाल के द्वारा कोटे का निर्धारण करने के मामले में पक्षपात किये जाने को लेकर माहौल गरमा गया। घटना की जानकारी मिलते ही कवरेज करने पहुंचे मीडिया कर्मियों ने खंडविकास अधिकारी ऋषि पाल से राशन की दुकान के निर्धारण में स्थानीय क्षेत्र की कोटेदारी में सहभागिता करने वाले सभी पक्षों की गैर मौजूदगी में कैसे किसी एक पक्ष को कोटे का निर्धारण करने के सवाल पर खंडविकास अधिकारी ऋषि पाल आगबबूला होकर पत्रकारों से अभद्रता करते हुए मौके पर मौजूद पुलिस कर्मियों से सभी मीडिया कर्मियों को परिसर से बाहर खदेड़ते हुए फेंकने की बात कही। और साथ ही मीडिया को किसी भी प्रकार की जानकारी देने से साफ़ इंकार करते हुए नौ दो ग्यारह हो गए। अब ऐसे में प्रशासन पर सवाल उठना तो जाज़मी है। जनता के सवालों का जवाब अधिकारी देते नहीं। और जब लोकतंत्र का चौथा स्तंभ सवाल पूछता है तो अधिकारी अभद्रता करने के साथ जानकारी देने से मुकर जाते हैं। और पुलिस कर्मियों की मदद से बाहर फेकने और खदेड़ने की बात करते हैं। आखिर ये अधिकारी किसके आशीर्वाद से जनता और मीडिया पर तानाशाही शासन कायम करने में लगे हुए हैं। ऐसे में बड़ा सवाल ये उठता है। कि इन जिम्मेदार अधिकारियों पर कोई कार्यवाई होती है या फिर अधिकारी विभागीय पक्षपात कर मामले को दबा देंगे।