हिमाचल सरकार ने कोरोना के कारण अनाथ हुए बच्चों को

केंद्र की ओर से 2000 रुपये और हिमाचल प्रदेश सरकार 1500 रुपये की सहायता राशि देगी। मुख्यमंत्री जयराम ठाकुर ने यह घोषणा आईजीएमसी अस्पताल शिमला में इमरजेंसी लैब और ऑक्सीजन लिक्वड टैंक के उद्घाटन के दौरान की। इस अवसर पर शहरी विकास मंत्री सुरेश भारद्वाज, स्वास्थ्य मंत्री राजीव सैजल, स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी समेत अन्य पदाधिकारी मौजूद रहे।इसके अलावा मुख्यमंत्री कन्यादान योजना के तहत विवाह के लिए 51000 रुपये दिए जाएंगे। अनाथ बालिकाओं के लिए कस्तूरबा गांधी बालिका विद्यालय के माध्यम से छात्रावासों में दाखिला दिया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि यह संवेदनशील मामला है. कांग्रेस के प्रदेशाध्यक्ष कुलदीप राठौर के हिमाचल प्रदेश के लाहौल-स्पीति के समदो बॉर्डर के पार चीन की ओर से पक्के निर्माण कार्यों को लेकर दिए गए बयान पर मुख्यमंत्री ने कहा कि इस मामले पर उन्हें राजनीति नहीं करनी चाहिए और न भ्रांतियां फैलानी चाहिएं।