शाहजहांपुर में लापरवाही से फैल सकता है कोरोना

यहां किसी पर नहीं लागू होता है डीएम का आदेश,

सोशल डिस्टेंस न मास्क का प्रयोग
उप निदेशक द्वारा हटवाई गई अबैध दुकाने फिर से सजी,

~शाहजहांपुर:~मंडी समिति रौजा की सब्जी एवं फल मंडी में दुकानदारों एवं ग्राहकों द्वारा कोरोना जैसी भयंकर महामारी से बचाव के डीएम द्वारा जारी निर्देशों की खुलेआम धज्जियां उड़ाई जा रही हैं। मंडी समिति रोजा की सब्जी मंडी, फल मंडी में नही कोई मास्क लगा रहा है और ना ही सोशल डिस्टेंसिंग का पालन किया जा रहा है। मंडी प्रशासन द्वारा सोशल डिस्टेंसिंग का पालन कराने या फेस मास्क लगाने के अलावा सैनिटाइजर का उपयोग कराने का कोई भी प्रयास नहीं किया जा रहा है। अगर यही स्थिति रही तो किसी ना किसी दिन हजारों की तादाद में लोग कोरोना संक्रमित होंगे और तब स्थिति संभालना प्रशासन के लिए टेढ़ी खीर साबित होगी।
मंडी समिति रोजा में सुबह 4:00 बजे से सब्जी एवं फल की खरीद वाले व्यापारियों एवं ग्राहकों की संख्या हजारों की तादात में होती है और आसपास के जिलों से भी खरीदारी करने के लिए आते हैं जिला प्रशासन द्वारा शनिवार रविवार को पूरे जनपद को पूर्ण बंद करने के निर्देश दिए गए हैं। इसके अलावा इस दौरान है रोजा मंडी समिति की सब्जी एवं फल मंडी खोलने की छूट दी गई हैं। इस कारण हजारों की तादाद में पूरे जनपद एवं आसपास के जिलों से लोग सब्जी एवं फल की खरीदारी करने के लिए आते हैं। जहां सार्वजनिक रूप से देखा जा सकता है कि 90% लोग बिना मास्क लगाए रहते हैं तथा सोशल डिस्टेंसिंग के पालन खुलेआम धज्जियां उड़ाई जाती है इसके अलावा किसी दुकानदार के पास सैनिटाइजर की भी व्यवस्था उपलब्ध है और अगर है भाई तो वह है इसका उपयोग नहीं कराता है जबकि जिले में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या दिन प्रतिदिन सैकड़ों की तादात में बढ़ती जा रही है। सबसे दिलचस्प बात तो यह है की सब्जी मंडी में नियम विरुद्ध तरीके पूड़ी सब्जी, छोले भटूरे इत्यादि के दर्जनों ठेले लगाकर सोशल डिस्टेंसिंग की धज्जियां उड़ाई जा रहीं हैं। ठेकेदार द्वारा अर्थ लाभ के चलते मंडी परिषद के दर्जनों दुकानें एवं ठेले लगवा दो उनसे ₹100 प्रति दुकान के हिसाब से अवैध रूप से वसूली की जा रही है। क्योंकि मंडी प्रशासन द्वारा मंडी परिसर के अंदर एक ही कैंटीन होनी चाहिए और उसका ही ठेका मंडी प्रशासन द्वारा दिया गया है लेकिन ठेकेदार द्वारा कैंटीन के अलावा जगह जगह स्टाल लगवा दिये गए हैं। अगर इस मामले में प्रशासन द्वारा गंभीरता से नहीं लिया गया तो जिले की स्थिति बहुत ही भयाभव होने से इनकार नहीं किया जा सकता है। शासन के सख्त निर्देशों के बावजूद भी प्रतिबंधित पॉलिथीन को मंडी परिसर के अंदर खुलेआम बेचा जा रहा है।

ब्यूरो रिपोर्ट मो सलीम शाहजहाँपुर