4 जून से शुरू होगी OPD ओपीडी सेवा, आदेश भी जारी.

लखनऊ, । वैश्विक महामारी कोरोना वायरस संक्रमण की सेकेंड स्ट्रेन की रफ्तार मंद पडऩे के बाद अब योगी आदित्यनाथ सरकार चार जून से प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों में ओपीडी सेवा भी शुरू कर देगी। सूबे में नॉन कोविड मरीजों की परेशानी देख सीएम योगी आदित्यनाथ ने यह फैसला लिया और इसका आदेश भी जारी हो गया है।उत्तर प्रदेश के सभी सरकारी अस्पतालों के साथ मेडिकल कॉलेज में भी चार जून से ओपीडी सेवा शुरू कर दी जाएगी। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के निर्देश के बाद अब मेडिकल कॉलेजों तथा स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों में सीमित संख्या के साथ जनरल ओपीडी सेवा चार जून से प्रारम्भ की जाएगी। इस दौरान ओपीडी में अधिक लोग एकत्रित न हों, इसके लिए मरीजों की संख्या सीमित रखी जाए। रोगियों को पूर्व निर्धारित समय पर ओपीडी में बुलाया जाएगा।अपर मुख्य सचिव चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि निर्देश है कि मेडिकल कॉलेजों तथा स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों में ओपीडी में आने वाले मरीजों के बैठने की समुचित व्यवस्था भी होनी चाहिए। इस दौरान अस्पतालों में मेडिकल इमरजेंसी सेवाएं निरन्तर जारी रखी जाएं। मेडिकल कॉलेजों तथा स्वास्थ्य विभाग के अस्पतालों में इस दौरान कोविड प्रोटोकॉल का भी पूरा पालन सुनिश्चित कराया जाए।अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि प्रदेश में पिछले 24 घंटों में 3,31,511 कोविड टेस्ट किए गए हैं। प्रदेश में अब तक पांच करोड़ से अधिक कोविड टेस्ट किए जा चुके हैं। पांच करोड़ से अधिक टेस्ट करने वाला उत्तर प्रदेश देश का पहला राज्य है। प्रदेश में 30 अप्रैल, 2021 को संक्रमण के अब तक के सर्वाधिक एक्टिव मामले 3,10,783 थे। वर्तमान में संक्रमण के एक्टिव मामलों की संख्या घटकर 28,694 हो गई है। 30 अप्रैल के सापेक्ष एक्टिव मामलों की संख्या में 2,82,089 की कमी आई है।