उपवास पर बैठे चंद्रबाबू नायडू से मिले कमलनाथ, कहा- ऐसी राजनीति PM को शोभा नहीं देती

नई दिल्ली। आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा देने की मांग को मांग को लेकर मुख्यमंत्री और तेलगू देशम पार्टी (टीडीपी) अध्यक्ष एन. चंद्रबाबू नायडू सोमवार को दिल्ली में एक दिन के उपवास पर बैठे हैं. उन्होंने सोमवार सुबह राजघाट जाकर बापू की समाधि को श्रद्धांजलि दी और फिर आंध्र भवन में अपना उपवास शुरू किया. इस बीच मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ ने भी इस मुद्दे पर नायडू के प्रति समर्थन दिखाने के लिए आंध्र भवन जाकर उनसे मुलाकात की.

कमलनाथ ने कहा कि वे आंध्रप्रदेश के मुख्यमंत्री चंद्रबाबू नायडू की मांग का समर्थन करते हैं . उनकी सोच का भी समर्थन करते हैं. उन्होंने कहा कि RBI, CBI, न्यायपालिका बंट गई है. यह देश के लिए बहुत बड़ा खतरा है. कमलनाथ ने पीएम पर हमला करते हुए कहा कि जैसे उनके बयान हैं और राजनीति कर रहे हैं, यह उन्हें शोभा नही देता है.

वहीं पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने मिलने के लिए समय मांगने पर कमलनाथ ने कहा कि शिवराज सिंह से मिलने में क्या है, मैं आमंत्रित करता हूं, जब भी समय मांगे मिलेंगे.

बता दें कि चंद्रबाबू नायडू आंध्र प्रदेश को विशेष राज्य का दर्जा दिलाने और राज्य पुनर्गठन अधिनियम, 2014 के तहत केंद्र के किए गए वादों को पूरा करने की मांग को लेकर यह भूख हड़ताल कर रहे हैं. नायडू की यह भूख हड़ताल सोमवार सुबह आठ बजे से लेकर रात आठ बजे तक आंध्र भवन में जारी रहेगा. इसके अगले दिन यानी मंगलवार 12 फरवरी को वो राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद को एक ज्ञापन भी सौंपेंगे.

गौरतलब है कि एक वक्त एनडीए गठबंधन का हिस्सा रही टीडीपी ने इस मुद्दे पर पिछले साल (2018) में केंद्र सरकार से अपना समर्थन वापस ले लिया था. नायडू वर्ष 2014 में हुए राज्य बंटवारे में आंध्र प्रदेश के साथ अन्याय होने की बात कहते रहे हैं.