MCU महाघोटाला की जांच तेज, EOW ने 19 आरोपियों का रिकॉर्ड जुटाया

भोपाल स्थित माखनलाल चतुर्वेदी राष्ट्रीय पत्रकारिता और संचार विश्वविद्यालय में बीजेपी शासन के दौरान हुए एमसीयू महाघोटाले की जांच तेज हो गई है.ईओडब्ल्यू ने 19 आरोपी प्रोफेसरों से जुड़े दस्तावेजों और रिकॉर्ड की जांच शुरू कर दी है.हालांकि, अभी पूर्व कुलपति बी के कुठियाला के आरोपों से जुड़े पूरे दस्तावेज नहीं मिले हैं.

दस्तावेज़ों की जांच : सरकार बदलते ही MCU में शिवराज सरकार के दौरान किए गए घोटाले की जांच शुरू हो गयी थी. इसमें नियुक्ति में धांधली की जांच सबसे बड़ी है. EOW ने बचे हुए रिकॉर्ड को बुलाने के लिए एमसीयू के रजिस्ट्रार को पत्र लिखा है. EOW ने आरोपी प्रोफेसरों से जुड़े दस्तावेजों को एमसीयू से मांगा था.एमसीयू ने तमाम प्रोफेसरों के संबंध में तमाम दस्तावेज भेज दिये हैं.इन्हीं दस्तावेजों का वेरीफिकेशन और उनसे जुड़े विभागों के अधिकारियों के बयान भी लिये जा रहे हैं.

हो सकती है गिरफ्तारी : वेरीफिकेशन के दौरान सबूतों के आधार पर आगे कार्रवाई की जाएगी. आरोपियों की गिरफ्तारी भी हो सकती है. अगर कोई सबूत नहीं मिला तो आरोपी बरी भी किए जा सकते हैं. इसके अलावा तत्कालीन कुलपति कुठियाला के मौजूदा दस्तावेजों की जांच भी की जा रही है.