शिवराज सिंह चौहान बोले- मैं मुख्यमंत्री नहीं, लेकिन लड़ाई जारी रहेगी!

भोपाल। मध्य प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने बयान दिया है कि मुझे पता है कि मैं मुख्यमंत्री नहीं हूं लेकिन जनता की लड़ाई लड़ने का काम करता रहूंगा. शिवराज ने कमलनाथ सरकार पर जमकर निशाना साधते हुआ कहा कि प्रदेश में किसानों की हालत बदतर हो गई है.

शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि धान की खरीदी नहीं हो रही है. खरीदा हुआ उड़द भी वापस किया जा रहा है. किसान को उपज का भुगतान नहीं मिल रहा है. शिवराज ने चेतावनी दी कि हालत नहीं सुधरी तो किसानों की लड़ाई सड़क पर लड़ी जाएगी.

इसके अलावा शिवराज ने कमलनाथ सरकार के उस फैसले पर निशाना साधा जिसमें सरकार ने झुग्गियों की रजिस्ट्री के साथ झुग्गीवासियों को उसका हक देने की कवायद शुरु कर दी है. शिवराज ने कहा कि कांग्रेस से आसमान के तारे तोड़कर लाने का कहो तो वो भी ला देगें. सिर्फ झुग्गियों का सर्वे ही तो कराना है. उन्होंने कहा कि चुनाव को सामने देखकर कांग्रेस हवाहवाई बातें करने में लगी है.

उधर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने भी कमलनाथ सरकार पर निशाना साधा है. कमलनाथ सरकार द्वारा हो रहे ताबड़तोड़ तबादले और फिर उसको रद्द करने के आदेश पर नेता प्रतिपक्ष गोपाल भार्गव ने फिर से निशाना साधा. उन्होंने आरोप लगाया कि प्रदेश में लेनदेन का खेल चल रहा है. गोपाल भार्गव ने कांग्रेस सरकार पर हमला बोलते हुए तबादलों के बाद उन्हें रद्द करने पर बड़े लेनदेन का आरोप लगाया.