तबादलों से ध्यान हटाकर कानून की चिंता करे कमलनाथ सरकार: राकेश सिंह

भोपाल। मध्य प्रदेश में सत्ता परिवर्तन के बाद अपराध में हुए इजाफे पर विपक्षी दल भारतीय जनता पार्टी ने मुख्यमंत्री कमलनाथ के नेतृत्व वाली कांग्रेस सरकार पर हमले तेज कर दिए हैं।
बीजेपी की प्रदेश इकाई के अध्यक्ष राकेश सिंह ने मंगलवार रात बयान जारी कर कहा कि राज्य की सरकार तबादलों में व्यस्त है। सरकार तबादला उद्योग से ध्यान हटाकर प्रदेश की कानून की चिंता करें, क्योंकि पिछले कुछ ही दिनों में प्रदेश में हत्या, लूट, पुलिस पर हमले और अपरहण की वारदातों की बाढ़ सी आ गई है।

वहीं, दूसरी तरफ पूर्व मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने भी राज्य की बिगड़ती कानून व्यवस्था पर चिंता जताई है। उन्होंने अपने शासनकाल की डकैत समस्या और उसके खात्मे का जिक्र करते हुए ट्वीट किया और कहा, ‘मुझे याद है, जब मैं पहली बार मुख्यमंत्री बना था, तब मैंने कहा था मध्य प्रदेश में या तो शिवराज रहेगा या तो फिर डाकू।’

चौहान ने अपने इस ट्वीट के जरिए राज्य सरकार से अपेक्षा की है कि सरकार अपराध पर काबू पाने की इच्छा शक्ति से काम करे। गौरतलब है कि राज्य के सतना में तेल कारोबारी के दो बेटों के अपहरण के बाद कानून व्यवस्था पर सवाल उठने लगे हैं।