लोकसभा चुनाव: सोशल मीडिया पर प्रचार में भाजपा सबसे आगे

Spread the love

नई दिल्ली। लोकसभा चुनाव के तीन चरणों में प्रचार के लिए भाजपा का सोशल मीडिया का बजट सबसे ज्यादा रहा। कांग्रेस के बजट में कम वृद्धि देखने को मिली। फेसबुक की ओर से जारी आधिकारिक आंकड़ों के मुताबिक, तीसरे चरण तक चुनाव प्रचार के मकसद से भाजपा ने कुल 1.32 करोड़ रुपये के 1,732 विज्ञापन जारी किए हैं। जबकि दूसरे चरण तक भाजपा ने कुल 87.47 लाख रुपये खर्च कर 1,129 विज्ञापन दिए थे।

तीसरे चरण में सबसे ज्यादा 117 सीटों पर मतदान हुआ है। अगर भाजपा और उसके समर्थित पेजों को जोड़ दिया जाए तो विज्ञापन पर कुल खर्च 5.84 करोड़ रुपये पहुंच जाता है। भाजपा के मुकाबले कांग्रेस इस पर कम खर्च कर रही है। पिछले दो चरणों के आंकड़ों के मुताबिक कांग्रेस ने फेसबुक पर 44.07 लाख रुपये के 1,205 विज्ञापनों दिए थे। तीसरे चरण तक यह आंकड़ा 55 लाख रहा, जिसके तहत कुल 2,202 विज्ञापन जारी किए गए। इनके अलावा फेसबुक के टॉप टेन विज्ञापनदाताओं की सूची में बीजू जनता दल के नेता नवीन पटनायक भी हैं। पटनायक के प्रचार के लिए फेसबुक पर विज्ञापनों में 44 लाख खर्च किए गए हैं।

फेसबुक ज्यादा कारगर : विशेषज्ञों का कहना है ट्विटर और इंस्टाग्राम के मुकाबले फेसबुक लोगों का नजरिया बनाने में ज्यादा कारगर है। यही वजह है कि राजनीतिक दल भी अपनी बातों को लोगों के बीच पहुंचाने के लिए फेसबुक को ही ज्यादा तवज्जो दे रहे हैं।

सोशल मीडिया पर खर्च और बढ़ेगा
जानकारों का मानना है कि तीसरे चरण के चुनाव तक लोकसभा की कुल सीटों में से आधे से ज्यादा पर मतदान संपन्न हो चुका है। ऐसे में बची हुई सीटों पर प्रचार के लिए जनीतिक दलों के सोशल मीडिया कैंपेन में और तेजी आएगी। यानी फेसबुक और ट्विटर जैसे प्लेटफॉर्म पर दिए जाने विज्ञापनों की राशि बढ़ाई जानी तय है।

कुल 17 करोड़ के विज्ञापन मिले
फेसबुक को इस साल फरवरी से अब तक कुल 17.16 करोड़ रुपये के 84,368 विज्ञापन मिले हैं। इनमें से करीब 6 करोड़ रुपये के विज्ञापन सिर्फ भाजपा और उनके समर्थित पेजों के जरिए ही मिले हैं।

– 1.32 लाख रुपये खर्च किए कांग्रेस ने तीन चरणों में सोशल मीडिया पर अब तक

– 55 करोड़ रुपये तक पहुंचा फेसबुक पर भाजपा के चुनावी विज्ञापनों का खर्च

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *