राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक ओम प्रकाश का केजीएमयू में निधन

Spread the love

लखनऊ-
ओम प्रकाश राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारक का रविवार सुबह सात बजे निधन हो गया। काफी समय से केजीएमयू के शताब्दी भवन स्थित क्रिटिकल केयर मेडिसिन विभाग में भर्ती थे। उन्‍हें लग्‍स और हार्ट से संबंधित बीमारी थी। कुछ समय पहले ही मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने उनके हालचाल लिये थे।

उन्‍हें सांस से संबंधित सीओपीडी, कोरोनरी आर्टरी डिजीज भी थी। विभागाध्‍यक्ष प्रोo वेद प्रकाश ने बताया कि उन्‍हें कॉर्डियक पल्‍मोनरी अरेस्‍ट हुआ था। सुबह सात बजे उनका निधन हुआ।

95 वर्षीय ओम प्रकाश राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ के वरिष्ठ प्रचारकों में से हैं। वे मथुरा से संघ के स्वयंसेवक बने और प्रचारक के नाते पहली बार अतरौली केन्द्र हुआ। वे बिजनौर, बरेली, मुरादाबाद समेत कई स्थानों पर प्रचारक रहे। 1978 में पश्चिम उत्तर प्रदेश के प्रान्त प्रचारक बने।

1989 में अविभाजित उत्तर प्रदेश के सह क्षेत्र प्रचारक तथा 1990 में क्षेत्र प्रचारक बने। क्षेत्र प्रचारक के नाते सन 2000 तक दायित्व का निर्वहन किया। उसके बाद आरएसएस के अखिल भारतीय सह सेवा प्रमुख रहे।

उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री एवं राजस्थान के राज्यपाल कल्याण सिंह को स्वयंसेवक बनाने का श्रेय संघ प्रचारक ओमप्रकाश को जाता है। उन्हें विहिप के अन्तराष्ट्रीय उपाध्यक्ष चम्पत राय को भी संघ से जोड़ने का श्रेय है।

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *