शमशान घाट में अंतिम संस्कार करने पहुंचे लोग, छत गिरने से 40 लोग दबे

Spread the love

ब्यूरो रिपोर्ट:

गाजियाबाद से बड़ी खबर सामने आ रही है। जिले के मुरादनगर कस्बे में रविवार की सुबह श्मशान घाट में अंतिम संस्कार करने पहुंचे लोग हादसे का शिकार हो गए। बारिश के चलते श्मशान घाट की छत भरभरा कर गिर पड़ी। जिसमें करीब 40 लोगों के दबे होने की आशंका है। सूचना मिलने के बाद पुलिस फोर्स मौके पर पहुंचा है। रेस्क्यू ऑपरेशन चलाया जा रहा है। गाजियाबाद के जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंच गए हैं। हादसे की सूचना मिलने पर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने अफसोस जाहिर किया है। साथ ही डीएम और एसएसपी को तेजी के साथ रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने और घायलों की मदद करने का आदेश दिया है।

गाजियाबाद से मिली जानकारी के मुताबिक मुरादनगर में बंबामार्ग पर श्मशान घाट परिसर में एक हॉल की छत और दीवार गिर गई हैं। करीब 40 लोगों के दबे होने की सूचना है। मुरादनगर श्मशान घाट परिसर में गैलरी की छत गिर गई है। जिसमें 40 से अधिक लोगों की दबे होने की जानकारी दी जा रही है। यह सभी लोग कस्बे से अपने परिजन का अंतिम संस्कार करने के लिए आए थे। बारिश तेज होने के कारण सभी लोग गैलरी में लेंटर वाली छत के नीचे खड़े हुए थे। तेज बारिश और हवा के कारण पिलर टूट गए और पूरा लेंटर भरभरा कर अंदर खड़े लोगों के ऊपर आ गिरा। हादसे की पुकार मच गई। जो लोग चपेट में नहीं आए उन्होंने तत्काल पुलिस को सूचना दी।

मुरादनगर समेत आसपास के थानों से पुलिस मौके पर पहुंची है। फायर ब्रिगेड को भी बुलाया गया है। गाजियाबाद एनडीआरफ को भी जिला प्रशासन की ओर से सूचना दे दी गई है। पुलिस रेस्क्यू ऑपरेशन चला रही है। अब तक करीब 20 लोगों को मलबे से निकालकर अस्पताल में भर्ती कराया जा चुका है। मौके पर भारी भीड़ जमा है। बारिश के कारण रेस्क्यू ऑपरेशन चलाने में भारी दिक्कत आ रही है। पुलिस और प्रशासन के अधिकारी मौके पर हैं। गाजियाबाद के जिलाधिकारी अजय शंकर पांडेय और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक कलानिधि नैथानी मौके पर मौजूद है रेस्क्यू ऑपरेशन का संचालन कर रहे हैं।

दूसरी ओर लखनऊ से मुख्यमंत्री कार्यालय ने कहा, “उत्तर प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने जनपद गाजियाबाद के मुरादनगर में छत गिरने की घटना का संज्ञान लेते हुए जिलाधिकारी और वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक को तत्काल मौके पर पहुंचकर राहत व बचाव कार्य संचालित करने के निर्देश दिए हैं। उन्होंने कहा है कि घटना से प्रभावित व्यक्तियों को हर सम्भव मदद पहुंचायी जाए। उन्होंने हादसे में घायल लोगों का समुचित उपचार सुनिश्चित कराने के निर्देश भी दिए हैं।”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *