रक्षा मंत्रालय ने एलएंडटी डिफेंस को प्रदान किया ग्रीन चैनल का दर्जा.

Spread the love

समाचार भारती ब्यूरो मुंबई

देश में इंजीनियरिंग, प्रोक्योरमेंट और निर्माण परियोजनाओं, विनिर्माण, रक्षा और सेवाओं के अग्रणी समूह लार्सन एंड टुब्रो की रक्षा इकाई एलएंडटी डिफेंस को नौसेना हथियार वितरण प्रणालियों के प्रतिष्ठित ‘ग्रीन चैनल स्टेटस‘ से सम्मानित किया गया है। एलएंडटी डिफेंस को यह सम्मान रक्षा मंत्रालय (एमओडी), भारत सरकार के डायरेक्टोरेट जनरल क्वालिटी एश्योरेंस (डीजीक्यूए) की ओर से प्रदान किया गया है।

फर्म को ग्रीन चैनल सर्टिफिकेट प्रदान करना इसे डीम्ड रजिस्ट्रेशन स्टेटस प्रदान करने के समान समझा जाता है और साथ ही एमओडी के तहत विभिन्न खरीद एजेंसियों द्वारा प्री-डिस्पैच निरीक्षण की छूट और फर्म की गारंटी या वारंटी के तहत स्टोर की स्वीकृति के रूप में समझा जाता है। एलएंडटी डिफेंस को यह दर्जा डीजीक्यूए द्वारा इसकी उत्पादन सुविधाओं, गुणवत्ता प्रणालियों और उत्पादों के कड़े ऑडिट के बाद दिया गया है।

अपर मुख्य महानिदेशक और हैड आॅफ नेवल क्वालिटी एश्योरेंस रियर एडमिरल अतुल खन्ना ने आज एलएंडटी डिफेंस टीम को औपचारिक रूप से ‘ग्रीन चैनल स्टेटस‘ प्रदान किया। इस अवसर पर होलटाइम डायरेक्टर (डिफेंस एंड स्मार्ट टैक्नोलाॅजिस) और निदेशक मंडल के सदस्य श्री जे डी पाटिल भी उपस्थित रहे। इस अवसर पर उपस्थित अन्य गणमान्य व्यक्तियों में डॉ सुधीर मिश्रा, सीईओ और एमडी, ब्रह्मोस एयरोस्पेस प्राइवेट लिमिटेड, नौसेना मुख्यालय और गुणवत्ता आश्वासन प्रतिष्ठान के वरिष्ठ अधिकारी शामिल थे।

इस अवसर पर रियर एडमिरल अतुल खन्ना ने कहा कि ग्रीन चैनल सर्टिफिकेट का हासिल होना एलएंडटी डिफेंस में उनके विश्वास को ही साबित करता है। उन्होंने कहा, ‘‘इस स्टेटस से नौसैनिक जहाजों के लिए प्लेटफॉर्म विशिष्ट प्रणालियों को स्वदेशी बनाने की 25 वर्षों की एलएंडटी डिफेंस की यात्रा की कामयाबी भी साबित होती है।‘‘ उन्होंने एलएंडटी को गुणवत्ता मानकों को जारी रखने और नौसेना क्यूए एजेंसियों के साथ संवाद बढ़ाने के लिए भी प्रोत्साहित किया।

एलएंडटी के होलटाइम डायरेक्टर (डिफेंस एंड स्मार्ट टैक्नोलाॅजिस) और निदेशक मंडल के सदस्य श्री जे डी पाटिल ने कहा, ‘‘विशेष रूप से 50 वें विजय दिवस पर ग्रीन चैनल प्रमाणन प्राप्त करने पर हमें गर्व का अनुभव हो रहा है। एलएंडटी सशस्त्र बलों के साथ पिछले साढ़े तीन दशकों से संबद्ध है, जो अत्याधुनिक प्रौद्योगिकी और उच्च-गुणवत्ता प्रणाली प्रदान करता है। हमारे कामकाज को लेकर जो विश्वास व्यक्त किया गया है, उस पर खरा उतरने के लिए टीम एलएंडटी हर संभव प्रयास करेगी और हमारी डिफेंस क्यूए टीम समयबद्ध तरीके से बेहतर प्रणाली उपलब्ध कराने की दिशा में लगातार प्रयास करेगी।‘‘

ग्रीन चैनल नीति को मार्च 2017 में रक्षा मंत्रालय ने ‘मेक इन इंडिया’ पहल के एक हिस्से के रूप में पेश किया था। प्रमुख प्रणालियों के वितरण के लिए यह दर्जा हासिल करने वाली एलएंडटी निजी क्षेत्र की पहली रक्षा कंपनी होने का गौरव प्राप्त करती है। लार्सन एंड टुब्रो की एक अन्य समूह कंपनी एलएंडटी वाल्व्स ने नवंबर 2019 में रक्षा मंत्रालय से प्रतिष्ठित ग्रीन चैनल प्रमाणन प्राप्त किया था।

एलएंडटी डिफेंस ने स्वदेशी रक्षा समाधानों का उपयोग करते हुए साढ़े तीन दशकों में इन-हाउस क्षमताओं और योग्यता का निर्माण किया है। इसने अवधारणा, डिजाइन, विश्लेषण, इंजीनियरिंग, एम्बेडेड सॉफ्टवेयर, विनिर्माण, असेंबली, इंटीग्रेशन और टेस्टिंग में दक्षता विकसित की है। सशस्त्र बलों के लिए यह दक्षता उपकरण, प्रणालियों और प्लेटफार्मों के पूरे जीवन चक्र के दौरान मिले समर्थन के माध्यम से हासिल की गई है।

लार्सन एंड टूब्रो एक भारतीय बहुराष्ट्रीय कंपनी है जो 21 बिलियन अमरीकी डॉलर से अधिक के राजस्व के साथ प्रौद्योगिकी, अभियांत्रिकी, निर्माण, विनिर्माण व वित्तीय सेवायें मुहैया कराती है। यह 30 से अधिक देशों में कार्यरत है। एक मजबूत, ग्राहक केंद्रित दृष्टिकोण व उच्चस्तरीय गुणवत्ता की लगातार खोज ने एलएंडटी को आठ दशकों से अधिक वक्त से व्यवसाय के मुख्य क्षेत्रों में अगुआई पाने व उसे बरकरार रखने में सहायता की है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *