वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने कहा- ऑटो सेक्टर में आई मंदी के लिए ओला और उबर जिम्मेदार

Spread the love

नई दिल्ली। वित्तमंत्री निर्मला सीतारमण ने ऑटो सेक्टर में आई नरमी के पीछे ओला और उबर को जिम्मेदार ठहराया है. उन्होंने कहा कि आज युवा गाड़ी खरीदने की बजाय टैक्सी सर्विस का इस्तेमाल कर रहे हैं, इसलिए ऑटो सेक्टर में नरमी आई है. चेन्नई में वित्तमंत्री ने पत्रकारों से बातचीत के दौरान ये बात कही. कांग्रेस ने मंत्री के बयान पर निशाना साधा है.

सीतामरण ने कहा, ”ऑटोमोबाइल और कलपुर्जे के उद्योग बीएस 6 और युवाओं की मानसिकता की वजह से प्रभावित है जो गाड़ी खरीदने की बजाय ओला और उबर का इस्तेमाल करते हैं.” वित्तमंत्री ने कहा कि युवा गाड़ी खरीदकर मासिक किस्त देने की बजाय ओला या उबर को पसंद कर रहे हैं. ऑटोमोबाइल सेक्टर में घटती बिक्री और नौकरी पर मंत्री ने कहा कि सरकारी विभागों को नई गाड़ियां खरीदने की इजाजत दे दी गई है.

कांग्रेस ने वित्तमंत्री के बयान पर निशाना साधा है. कांग्रेस ने कहा, ”बस और ट्रक की बिक्री में भी इसलिए गिरावट आई है क्योंकि युवाओं ने पहले की तरह इसे खरीदना बंद कर दिया. क्या यह सही नहीं है वित्तमंत्री सीतारमण?”

ऑटोमोबाइल सेक्टर संबंधित रिपोर्ट गाड़ियों के उत्पादन, बिक्री और निर्यात पर नजर रखने वाली संस्था सोसाइटी ऑफ इंडियन ऑटो मैनुफैक्चरर्स (सियाम) के मुताबिक सभी पैसेंजर वाहनों की बिक्री अगस्त महीने में 31.57 फीसदी की गिरावट आई है जिसमें पैसेंजर व्हीकल सेगमेंट कारों की बिक्री में 41.09 फीसदी की गिरावट हुई है.

वहीं उत्पादन की बात करें तो इस साल अगस्त महीने में यात्री वाहनों के उत्पादन में 24.42 फीसदी की गिरावट दर्ज की गई है. बता दें कि अगस्त महीने में कुल 2,77,432 यात्री वाहनों का उत्पादन हुआ है. पिछले साल इसी महीने में 3,67,094 पैसेंजर व्हीकल का उत्पादन हुआ था. गाड़ियों के निर्यात में केवल 2 फीसदी का इजाफा हुआ है. इस साल अगस्त महीने में 1,96,524 पैसेंजर गाड़ियों की बिक्री हुई है जबकि पिछले साल जुलाई में 287,198 गाड़ियों की बिक्री हुई थी. दोपहिया वाहनों का प्रोडक्शन अगस्त में 17.08 फीसदी घट गया वहीं बिक्री में भी 22.24 फीसदी की गिरावट आई है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *