स्वतंत्रता दिवसः पीएम मोदी ने की देश के मिडिल क्लास की तारीफ, आम भारतीयों को बताया आत्मनिर्भर अभियान का आधार

Spread the love

नई दिल्ली। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा है कि देश के मध्यम वर्ग को अवसरों की जरूरत है और वह सरकारी दखलंदाजी से मुक्ति चाहता है. देश के 74वें स्वतंत्रता दिवस के मौके पर आज पीएम मोदी ने लाल किला पर झंडा फहराया. यह लगातार सातवीं बार है जब उन्होंने लाल किला में तिरंगा फहराया. इस मौके पर पीएम ने भारतीय आजादी के संघर्ष से लेकर आजादी के बाद के विकास की ओर बढ़ते कदमों के बारे में बात की और इसमें उन्होंने देश के मध्यम वर्ग को भी विशेष रूप से याद किया.

अपने भाषण के दौरान पीएम मोदी ने देश के विकास में मध्यम वर्ग के योगदान को याद किया और उनकी तारीफ की. उन्होंने कहा, “मध्यम वर्ग से निकले प्रोफेशनल्स भारत ही नहीं पूरी दुनिया में अपनी धाक जमाते हैं. मध्यम वर्ग को अवसर चाहिए, मध्यम वर्ग को सरकारी दखलअंदाजी से मुक्ति चाहिए.”

पीएम ने मध्यम वर्ग के लिए अपनी सरकार के प्रयासों का भी जिक्र किया और कहा, “ये भी पहली बार हुआ है जब अपने घर के लिए होम लोन की EMI पर भुगतान अवधि के दौरान 6 लाख रुपए तक की छूट मिल रही है. अभी पिछले वर्ष ही हजारों अधूरे घरों को पूरा करने के लिए 25 हजार करोड़ रुपए के फंड की स्थापना हुई है.”

पीएम ने साथ ही हाल ही में MSME सेक्टर में सरकार की ओर से किए गए बदलावों की भी बात की और कहा कि इनसे मध्यम वर्ग को लाभ पहुंचेगा. साथ ही छोटे शहरों तक पहुंच के लिए चलाई जा रही उड़ान योजना और देश में सस्ते इंटरनेट को भी मिडिल क्लास को ताकत देने वाला कदम बताया.

‘आत्मनिर्भर भारत का आधार हैं आम नागरिक’

देश को आत्मनिर्भर बनाने में आम भारतीयों की शक्ति को उन्होंने सबसे बड़ा आधार बताया. पीएम ने कहा, “एक आम भारतीय की शक्ति, उसकी ऊर्जा, आत्मनिर्भर भारत अभियान का बहुत बड़ा आधार है. इस ताकत को बनाए रखने के लिए हर स्तर पर, निरंतर काम हो रहा है.”

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *