EC ने 2019 लोकसभा चुनाव के लिए जारी किया गया एटलस, पढ़ सकेंगे डिजिटल किताब भी

ब्यूरो रिपोर्ट समाचार भारती

निर्वाचन आयोग ने 17वीं लोकसभा के लिए 2019 में हुए आम चुनाव पर एटलस जारी किया है. मानवीय इतिहास में ये आम चुनाव सबसे बड़ी लोकतांत्रिक प्रक्रिया के रूप में दर्ज हो गया है. इसमें 61.468 करोड़ मतदाताओं ने 10.378 करोड़ मतदान केंद्रों पर वोट डाले. मतदान की पूरी प्रक्रिया भारत के 32 लाख वर्ग किलोमीटर क्षेत्र में संपन्न हुई.

एटलस देश के सभी 543 लोकसभा क्षेत्रों के बारे में गहरी और उपयोगी जानकारी देता है. क्षेत्र, जातिगत आंकड़े, शिक्षा, लिंग अनुपात, सामाजिक स्थिति सहित कई वर्गीकरण के आंकड़े इस एटलस में मौजूद हैं. 1951-52 से लेकर अब तक हुए सभी आम चुनावों के बाद आयोग उनके बारे में किताब की शक्ल में जानकारी प्रकाशित करता रहा है.

इस बार ये जानकारी आंकड़ों के साथ दस्तावेजीकरण यानी डिजिटल रूप में भी संरक्षित है. एटलस में थीम पर आधारित 42 नक्शे हैं और 90 सारणी, यानी टेबल के जरिए आंकड़ों के साथ चुनावों से संबंधित कानूनी बारीकियां भी समझाई गई हैं.

ये एटलस आम जन के साथ भारतीय लोकतांत्रिक इतिहास पर शोध करने वालों के लिए भी उपयोगी होगा. क्योंकि उसमें चुनावी नेरेटिव और आंकड़ों के जरिए तार्किक ढंग से चीजें समझाई गई हैं. मतदान कराने से महीनों पहले मतदाता सूची में संशोधन, प्रकाशन के शुरू होने के साथ-साथ नतीजे प्रकाशित होने और सदन का गठन होने तक की पूरी प्रक्रिया, बारीक जानकारी के साथ इसमें दर्ज है.