कश्मीर : पुलवामा हमले के 4 दिन बाद मास्टरमाइंड गाजी समेत 3 आतंकी मारे गए, मेजर समेत 5 शहीद

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में सोमवार को जैश-ए-मोहम्मद के दो आतंकी मारे गए। सेना के सूत्रों ने बताया कि पुलवामा में 14 फरवरी को हुए फिदायीन हमले का मास्टरमाइंड कामरान उर्फ राशिद गाजी, स्थानीय जैश आतंकी बिलाल अहमद नाइक उर्फ राशिद भाई और एक अन्य आतंकी मुठभेड़ में मारा गया। इससे पहले मुठभेड़ में सेना के एक मेजर समेत चार जवान शहीद हो गए। एक आम नागरिक के भी मारे जाने की खबर है। इस मुठभेड़ केे बाद स्थानीय लोगों ने सुरक्षाबलों पर पथराव भी किया।

सुरक्षाबलों को जम्मू-कश्मीर में पुलवामा से करीब 10 किलोमीटर दूर पिंग्लेना में आतंकियों के छिपे होने की सूचना मिली थी। इसके बाद सोमवार तड़के सर्च ऑपरेशन चलाया गया। शहीद हुए चारों जवान 55 राष्ट्रीय राइफल्स के थे। इनमें मेजर वीएस धौंडियाल, हवलदार शिवराम, सिपाही अजय कुमार और सिपाही हरि सिंह शामिल हैं। एक हेड कॉन्स्टेबल भी शहीद हुआ।

चार दिन में 46 जवान शहीद

पिछले चार दिन में राज्य में आतंकी घटनाओं में 45 जवानों की जान जा चुकी है। इससे पहले 14 फरवरी को पुलवामा में हुए फिदायीन हमले में 40 जवान शहीद हुए थे। वहीं, शनिवार को राजौरी के नौशेरा सेक्टर में एक आईईडी को नाकाम करते वक्त सेना के मेजर चित्रेश बिष्ट शहीद हो गए थे। बिष्ट का सोमवार को देहरादून में अंतिम संस्कार किया जा रहा है।