गोवा के मुख्यमंत्री पर्रिकर का 63 की उम्र में निधन, एक साल से कैंसर से जूझ रहे थे

पणजी. गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (63) का रविवार शाम को निधन हो गया। वह चार बार मुख्यमंत्री रहे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उनके निधन की जानकारी देते हुए ट्वीट किया।प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कहा कि पर्रिकर मॉडर्न गोवा के निर्माता थे, उनके फैसलों ने भारतीय रक्षा क्षमताओं को बढ़ाया।सोमवार 11 बजे केंद्रीय कैबिनेट उन्हें श्रद्धांजलि देगी। केंद्र सरकार ने पर्रिकर के निधन के चलतेसोमवार को राष्ट्रीय शोक घोषित किया है।

पर्रिकर के रक्षामंत्रीरहते पीओके में सर्जिकल स्ट्राइक हुई

पर्रिकर ने 2014 से 2017 तक रक्षामंत्री का पदभार संभाला। उन्हीं के कार्यकाल मेंभारतीय सेना ने पीओके में स्थित आतंकी ठिकानों पर सर्जिकल स्ट्रॅाइक की थी।पर्रिकर के रक्षा मंत्री रहते हीवन रैंक-वन पेंशन स्कीम लागू हुई।

काल शाम 5 बजे होगा अंतिम संस्कार
पर्रिकर का पार्थिव शरीर सोमवार को सुबह 9.30 से 10.30 तक पणजी के भाजपा कार्यालय में रखा जाएगा। इसके बाद पार्थिव देहको कला अकादमी लाया जाएगा, जहां 4 बजे तक आम लोग उन्हें श्रद्धांजलि दे सकेंगे। कंपाल स्थित एसएजी मैदान में 5 बजे पर्रिकर का अंतिम संस्कार होगा।

मुख्यमंत्री बनने वाले पहले आईआईटीयन थे पर्रिकर
13 दिसंबर 1955 को गोवा के मापुसा में जन्मे पर्रिकर पहले ऐसे मुख्यमंत्री थे जो आईआईटी से पासआउट थे। वह चार बार 2000-2002, 2002-05, 2012-2014 और 14 मार्च 2017-17 मार्च 2019 तक चार बार मुख्यमंत्री रहे।2014 में जब केंद्र में भाजपा की सरकार बनी थी, तब प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी नेकहाकि वह गोवा की राजनीति छोड़कर केंद्र की राजनीति में आएं। इसके बाद पर्रिकर को रक्षामंत्री बनाया गया था।